‘जंजीर’ ने चमकाई थी Amitabh की किस्मत, Jaya Bachchan ने ऐसे भरी थी फिल्म के लिए हामी


नई दिल्ली: अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) बॉलीवुड इंडस्ट्री में दशकों से राज कर रहे हैं. अमिताभ ने कई शानदार फिल्मों में अपने अभिनय का लोहा मनवाया लेकिन क्या आपको पता है कि अमिताभ के करियर को उठाने वाली वो कौन सी फिल्म थी जिसने उन्हें बॉलीवुड का शहंशाह बना दिया. अमिताभ की किस्मत फिल्म ‘जंजीर’ से चमकी.  11 मई 1973 तो रिलीज हुई इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर धमाका मचा दिया. जया बच्चन के साथ फिल्म में अमिताभ की जोड़ी बनी थी.

इस तरह से अमिताभ को मिली ‘जंजीर’:
हमारी सहयोगी वेबसाइट Bollywoodlife.com में प्रकाशित एक खबर के अनुसार आपको बता दें ‘जंजीर’ फिल्म के लिए निर्देशक प्रकाश मेहरा को एक बड़े चेहरे की तलाश थी. देव आनंद के बाद राज कुमार ने इस फिल्म को करने से मनाकर दिया. फिर ‘जंजीर’ आई अमिताभ बच्चन की झोली में. प्राण के कहने पर इस फिल्म में अमिताभ बच्चन को लीड रोल मिला, वहीं फिल्म की अभिनेत्री को लेकर मंथन होना शुरू हो गया. अमिताभ क्योंकि उन दिनों इंडस्ट्री का बड़ा नाम नहीं थे इस वजह से कई बड़ी अभिनेत्रियों ने उनके साथ काम करने से इंकार कर दिया.

अमिताभ के लिए जया बच्चन ने की ‘जंजीर’:
‘जंजीर’ की कहानी लिख रहे सलीम खान उस समय जया भादुड़ी के पास पहुंचे. सलीम खान जो जया और अमिताभ के रिश्ते की जानकारी थी. समील खान ने जया को फिल्म की कहानी सुनाई तो उन्होंने कहा कि इसमें मेरे लिए करने को क्या है. जया बच्चन और सलीम खान की बातें आगे बढ़ीं. सलीम खान ने बेहद ईमानदारी के साथ कहा कि मुझे पता है कि इस फिल्म में करने के लिए आपके पास कुछ भी नहीं है लेकिन इस फिल्म में अमिताभ बच्चन हैं. मुझे पूरी उम्मीद है कि आप अमिताभ के लिए ये फिल्म जरूर करेंगी. जया बच्चन सलीन खान का इशारा समझ गईं और उन्होंने फिल्म में काम करने के लिए हामी भर दी. ‘जंजीर’ रिलीज हुई और बंपर हिट साबित हुई. 

‘जंजीर’ हिट के बाद अमिताभ की हुईं जया: 
जंजीर हिट के बाद अमिताभ बच्चन की किस्मत हर तरह से चमक गई. अमिताभ जहां बॉलीवुड के सुपरस्टार बन गए तो वहीं जया बच्चन संग उन्होंने शादी रचाई और विदेश घूमने चले गए. फिल्मी पर्दे की ये हिट जोड़ी आज असल जिंदगी में भी हर किसी के लिए एक मिसाल पेश करती है. अमिताभ बच्चन और जया बच्चन की आज 47वीं सालगिरह है. 

एंटरटेनमेंट की और खबरें पढ़ें





Source link