लार्सन एंड टुब्रो ने कहा- सरकारी अस्पतालों को कोविड-19 अस्पताल बनाने में कंपनी कर रही है मदद


कोरोना से जारी है लड़ाई (प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली:

लार्सन एंड टुब्रो (एलएंडटी) ने सोमवार को कहा कि उसकी निर्माण इकाई ने देशभर में कई जगह पहले से स्थापित या निर्माणाधीन सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों/ अस्पतालों को कोविड-19 अस्पताल में बदला है. कंपनी ने कहा कि उसके पास तीन से चार महीने की रिकॉर्ड अवधि में 300 बिस्तरों का अस्पताल बनाने विशेषज्ञता है. कंपनी ने कहा कि उसके पास स्थापित या निर्माणाधीन स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे को तेजी से कोविड-19 सुविधा केंद्र बनाने की क्षमता है. कंपनी विवाहघरों, स्कूलों और होटल के कमरों को भी तेजी से पृथर रखने के स्थान के रूप में बदल सकती है.

यह भी पढ़ें

शेयर बाजार को दी जानकारी के मुताबिक कंपनी ने दिल्ली, बिहार के चंपारण और मधेपुरा, पुडुचेरी, पश्चिम बंगाल के डायमंड हार्बर और उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में बड़े स्तर पर कोविड-19 से जुड़ा स्वास्थ्य बुनियादी ढांचा खड़ा किया है. कंपनी के पूर्ण कालिक निदेशक एम. वी. सतीश के मुताबिक कंपनी की अस्पताल कारोबार इकाई ने इस महामारी संकट के दौरान कई सरकारी एजेंसियों की मदद की है. कंपनी ने दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में तीन तलों को कोविड-19 अस्पताल में बदल दिया.



Source link