सुशांत के निधन के बाद छिड़ी बहस पर भड़के Farhan Akhtar, नेपोटिज्‍म पर कह दी ऐसी बात


नई दिल्‍ली: सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की आत्महत्या ने फिल्म इंडस्ट्री में आउटसाइडर्स के साथ किए जाने वाले बर्ताव और स्‍टार किड्स को मिलने वाली तवज्‍जो पर बहस छेड़ दी. बॉलीवुड में दोनों तरफ के लोगों की हर दिन इस पर टिप्‍पणियां आ रही हैं. नेपोटिज्‍म पर बोलने वालों में अब एक्‍टर फरहान अख्‍तर (Farhan Akhtar) भी शामिल हो गए हैं. 

हमारी सहयोगी वेबसाइट Bollywoodlife.com में प्रकाशित एक खबर के अनुसार एक मीडिया से बातचीत में पहले तो उन्‍होंने एक्टर की मौत पर तमाशा खड़े करने वालों की जमकर क्लास लगाई है. उन्‍होंने कहा, ‘सुशांत सिंह राजपूत की मौत पूरी फिल्म इंडस्ट्री के लिए एक बहुत बड़ा नुकसान है और यह अब तक की सबसे बड़ी त्रासदियों में से एक है, लेकिन उनके इस तरह जाने को लेकर कुछ लोग लगातार दूसरों को निशाना बना रहे हैं. सुशांत के परिवार को शोक मनाने के लिए भी अकेला नहीं छोड़ा गया, बल्कि उनकी मौत को लेकर छीछालेदर की जा रही है.’  उन्‍होंने आगे कहा, ‘हर कोई अचानक जानने लगा है कि वो क्या चाहता था. उसकी पूरी जिंदगी के बारे में बातें हो रही हैं. ये क्या सर्कस है…. ऐसे समय में आपको दयालु बनना चाहिए. हमें उनके अच्छे कामों के बारे में बात करनी चाहिए. उनके जाने का शोक मनाना चाहिए.’ 

नेपेाटिज्‍म (Nepotism) को लेकर उन्‍होंने कहा, ‘फिल्‍म इंडस्‍ट्री पूरी तरह से सफलता और विफलता पर काम करती है. ये सही है कि ऐसे लोगों के पास एक विशेषाधिकार है जो फिल्म उद्योग में पैदा हुए हैं, लेकिन सभी बाहरी लोगों के साथ बुरा व्यवहार नहीं किया जाता है. स्टार किड्स के लिए सफलता हासिल करना आसान है, क्योंकि उनके माता-पिता ने कड़ी मेहनत करके उनके भविष्य के लिए जगह बनाई है. इसीलिए उनके लिए राहें आसान होती हैं, लेकिन ये भी उतना ही सच है कि हर आउटसाइडर के साथ बुरा बर्ताव नहीं होता है.’ 

एंटरटेनमेंट की और खबरें पढ़ें 





Source link