2020 का पहला पहला चंद्र ग्रहण, जानें क्या है दिन तारीख और समय

2020 Lunar eclipse time and date
2020 Lunar eclipse time and date

साल 2020 की शुरुआत हो चुकी है। इस साल का पहला ग्रहण जल्द ही लगने वाला है। आपको बता दें कि इससे पहले पिछले साल सूर्यग्रहण लगा था जिसकी चर्चा पूरी दुनिया में हुई। इस बार सूर्यग्रहण नहीं बल्कि चन्द्रग्रहण लगेगा। आइये जानते हैं कि यह ग्रहण कब लगेगा और इसका प्रभाव, सूतक आदि का ब्यौरा जानते हैं।

2019 में जब सूर्य ग्रहण लगा था। तब इस बारें में खूब चर्ग्रचा हुई थी। ऐसे में अब बात करते हैं साल 2020 की। जी हां, साल 2020 का पहला ग्रहण चांद पर लगेगा, गौरतलब है कि भारतीय संस्कृति में ग्रहण का एक अलग ही महत्व है। लोग इस दिन काफी सावधानी भी बरतते हैं।

ग्रहण का समय

यह चंद्रग्रहण 10 जनवरी 2020 को चंद्र ग्रहण रात 10 बजकर 37 मिनट से 11 जनवरी रात 2 बजकर 42 मिनट तक लगेगा। यह ग्रहण भारत में भी दिखाई देगा। बता दें कि ग्रहण का सूतक 12 घंटे पहले से ही शुरु हो जाएगा। इस वजह से लोगों को काफी सावधानी बरतनी पड़ेगी।

इतना ही नहीं, इस बार का ग्रहण कई राशियों पर बुरा असर भी डालेगा, तो वहीं कुछ राशियों को काफी हद तक सफलता भी मिलेगी। कुल मिलाकर मिला जुला परिणाम देखने को मिल सकता है।

कहाँ देखा जा सकता है?

भारत के अलावा विश्वग में इस ग्रहण को यूरोप, एशिया, अफ्रीका व आस्ट्रे लिया महाद्वीपों में भी देखा जा सकता है। बता दें कि यह साल 2020 का पहला चंद्र ग्रहण होगा, लेकिन इसके बाद साल में तीन और चंद्र ग्रहण होंगे।

मतलब साफ है कि एक के बाद चंद्र ग्रहण हम लोगों के बीच में रहेंगे, लेकिन हर चंद्र ग्रहण में भारत में दिखाई दे, ये ज़रूरी नहीं है। इस वजह से ये चंद्र ग्रहण हम भारतीयों के लिए काफी ज्यादा मायने रखता है।

यह भी पढ़ें: लीवर की समस्या से लेकर मोटापा कम करने में रामबाण है हल्दी

सूतक का समय

ज्योतिष की माने तो इस बार सूतक का असर 12 से 10 घंटे रहेगा । इस हिसाब से 10 जनवरी को सुबह 10 बजे से ही सूतक लग जाएगा, जिसका असर काफी ज्यादा रहने वाला है। बता दें कि इस दौरान व्यक्ति को खाना पीना नहीं करना चाहिए, क्योंकि ये हिंदू धर्म में वर्जित माना जाता है।

कुछ लोग इस दिन व्रत भी रखते हैं और ग्रहण खत्म होने के बाद ही कुछ ग्रहण करते हैं। इतना ही नहीं, गर्भवती महिलाओं को ग्रहण के दौरान विशेष ध्यान रखना चाहिए।