Nisarga cyclone: महाराष्ट्र में तूफान से 6 लोगों की मौत, राज्य के 14 जिले प्रभावित

Nisarga cyclone: महाराष्ट्र में तूफान से 6 लोगों की मौत, राज्य के 14 जिले प्रभावित

महाराष्ट्र में चक्रवाती तूफान निसर्ग से 14 जिलों में नुकसान हुआ है.

नई दिल्ली:

Nisarga cyclone: महाराष्ट्र में तूफान निसर्ग से 6 लोगों की मौत हुई है. मृतकों के परिवारों को चार-चार लाख रुपये की आर्थिक मदद का ऐलान राज्य सरकार ने किया है. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए आज चक्रवात से हुए नुकसान का जायजा लिया. ठाकरे ने रायगढ़ जिले में जिनके घर गिर गए हैं उन्हें तुरंत राशन मुहैया कराने का आदेश दिया. इलाके में जल्दी से बिजली व्यवस्था दुरुस्त करने का आदेश भी दिया.तूफान से कुल 14 जिले प्रभावित हुए हैं.

तूफान से महाराष्ट्र में कई स्थानों पर नुकसान हुआ है. ठाणे जिले में  162 मिट्टी के घर ढह गए हैं और 360 पेड़ों की डालियां गिरी हैं. रायगढ़ जिले में एक लाख से अधिक पेड़ गिरे हैं. हजारों बिजली के खंभे गिर गए हैं और 5000 हेक्टेयर क्षेत्र में कृषि को नुकसान पहुंचा है. आंतरिक सड़कें बहुत खराब हो चुकी हैं जिससे कुछ जगहों पर एम्बुलेंस नहीं भेजी जा सकीं.  500 ​​मोबाइल टावर गिर गए हैं,  10 नौकाओं को आंशिक रूप से नुकसान हुआ है और 12 हेक्टेयर में मछली पालन को नुकसान पहुंचा है.

रत्नागिरी जिले में  सबसे ज्यादा नुकसान दापोली और मंडनगढ़ में हुआ.  यहां 3000 पेड़ गिर गए हैं, 14 सबस्टेशन, 1962 ट्रांसफार्मर और बिजली के खंभे ध्वस्त हो गए हैं.  स्थानों पर जलापूर्ति भी बाधित हुई है. मुम्बई शहर में 25 स्थानों पर पेड़ गिर गए. उपनगरों में 55 स्थानों पर पेड़ गिर गए और 2 घर ढह गए हैं.

राज्य में 78 हजार 191 नागरिकों को सुरक्षित स्थानों पर स्थानांतरित किया गया है. 21 एनडीआरएफ और 6 एसडीआरएफ दस्ते तैनात किए गए थे. 6 लोग मारे गए, 6 जानवर मारे गए और 16 अन्य घायल हो गए. प्रारंभिक जानकारी के अनुसार रायगढ़ जिले में 5033 हेक्टेयर भूमि खराब हो गई है. तूफान से कुल 14 जिले प्रभावित हुए हैं.

Source link