Covid-19 से महज 4 दिनों में 900 लोगों की मौत: आकंड़ों में देखिए, भारत में कितनी तेजी से बढ़ रहा है कोरोना

Covid-19 से महज 4 दिनों में 900 लोगों की मौत: आकंड़ों में देखिए, भारत में कितनी तेजी से बढ़ रहा है कोरोना

26 अप्रैल तक कोरोना के कुल मामले 25,000 थे, लेकिन अब दो दिनों में ही इतने केस. (प्रतीकात्मक तस्वीर))

खास बातें

  • महज 2 दिनों में सामने आ रहे 25,000 केस
  • चार दिनों में हो रहीं 1,000 मौतें
  • लेकिन 8 जून से धीरे-धीरे खुल रहा है देश

नई दिल्ली:

भारत में 5 जून तक नॉवेल कोरोनावायरस के कुल मामलों की संख्या सवा दो लाख के पास पहुंच चुकी है. केंद्र और राज्य सरकारें एक तरफ अर्थव्यवस्था को धीरे-धीरे खोलने की ओर कदम बढ़ा रही हैं, दूसरी ओर अगर कोरोनावायरस से जुड़े आंकड़ों पर नजर डालें तो ये आंकड़ें बहुत ही तेजी के साथ बढ़ रहे हैं.

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी किए गए डेटा को देखें तो पता चलता है कि कुछ हफ्तों में ही यह महामारी कितनी तेजी से पूरे देशभर में फैली है. सरकार जबसे डेटा संग्रह कर रही है, तबसे भारत में 48 दिनों के भीतर 100 मौतें दर्ज की गई थीं लेकिन अब चार दिनों में ही इतनी मौतें हो रही हैं. भारत में 26 अप्रैल तक यानी 87 दिनों के भीतर कोरोनावायरस के कुल मामले 25,000 थे, लेकिन दो दिनों में ही इतने केस सामने आ रहे हैं. महज छह हफ्तों में कुल मामलों की संख्या 2,26,770 तक पहुंच चुकी है.

कोरनावायरस के पहले 25,000 केस 87 दिन में सामने आए थे, अब सिर्फ दो दिन लग रहे हैं
तिथिकुल मामलेसमय लगा
26 अप्रैल26,49687 दिन
7 मई52,95211 दिन
14 मई78,0037 दिन
19 मई1,01,1395 दिन
23 मई1,25,1014 दिन
27 मई1,51,7674 दिन
31 मई1,82,1434 दिन
3 जून2,07,6153 दिन
5 जून2,26,7702 दिन

12 मार्च को भारत में कोविड-19 से पहली मौत हुई थी. 29 अप्रैल तक 1,000 मौतें हो चुकी थीं. तबसे मौतों का आंकड़ा बहुत तेजी से बढ़ा है. अगले कुछ ही हफ्तों में कुल मौतों का आंकड़ा 6,075 के आसपास पहुंच चुका है. महज पिछले चार दिनों में ही 1,000 मौतें हुई हैं.

कोरनावायरस से पहली 1,000 मौत 48 दिन में हुईं, अब सिर्फ चार दिन लग रहे हैं
तिथिमौतसमय लगा
12 मार्चपहली मौत
29 अप्रैल1,00848 दिन
10 मई2,10911 दिन
18 मई3,0298 दिन
25 मई4,0217 दिन
31 मई5,1646 दिन
4 जून6,0754 दिन

ऐसे में इन आंकड़ों के बीच सरकारें अर्थव्यवस्था को राहत पहुंचाने के लिए प्लान Unlock1 के तहत शॉपिंग मॉल्स, रेस्टोरेंट, होटल, धार्मिक स्थल वगैरह खोल रही हैं. ये चिंता का विषय हो सकता है. Unlock1 के तहत गाइडलाइंस भी जारी की गई हैं. सोमवार से ये प्लान लागू हो जाना है. इसमें मॉल्स में थर्मल स्क्रीनिंग होगी, फेस मास्क पहनना जरूरी होगा. सिनेमा हॉल्स, गेमिंग आर्केड और प्ले एरिया बंद रहेंगे. वहीं धार्मिक स्थलों पर भक्त मूर्तियों को नहीं छू सकेंगे. कंटेनमेंट ज़ोन में ये सारी जगहें पहले जैसी ही बंद रहेंगी.

सरकार ने जिलों और राज्यों के बीच लोगों के आवागमन को भी अनुमति दे दी गई है. लेकिन कुछ राज्यों ने वायरस के प्रसार को रोकने के लिए अभी भी बॉर्डर बंद रखे हैं. पिछले दो हफ्तों से देश में घरेलू उड़ान जारी हैं लेकिन अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को अभी भी बंद रखा गया है.

विशेषज्ञों का मानना है कि लॉकडाउन में इतनी ढील देने के बाद कोरोना के मामले बहुत तेजी से बढ़ेंगे, लेकिन महीने भर से ज्यादा वक्त से देशभर की इकॉनमी ठप रखने के बाद सरकार कहना है कि ऐसी स्थिति में लोगों को वायरस के साथ रहने की आदत डालनी होगी.

Source link