ट्रेन के गेट पर बैठे शख्स को लात मार कर नीचे गिराया, मौके पर ही मौत

मध्यप्रदेश के भोपाल से हत्या का एक चौंकाने वाला सामने आया है. एक शख्स ने अपने सहयात्री की ह्त्या कर दी. मगर ताज्जुब की बात ये है कि दोनों की पहले से कोई जान-पहचान नही थी, ना ही दोनों के बीच किसी झगडे की सूचना है.

लात मारकर गिरा दिया

बताया जा रहा है कि मध्यप्रदेश में सूखी सेवनिया रेलवे स्टेशन के पास कामायनी एक्सप्रेस में सफर कर रहे एक व्यक्ति ने दरवाज़े पर बैठे 23 वर्षीय यात्री को कथित रूप से पैर मारकर चलती ट्रेन से बाहर गिरा दिया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई.

भोपाल रेलवे पुलिस के थाना प्रभारी हेमंत श्रीवास्तव ने बताया, ‘‘राजमल पाल उर्फ रज्जू (27) ने रीतेश (23) को पैर मारकर ट्रेन ने नीचे गिरा दिया. रीतेश ने घटनास्थल पर ही दम तोड़ दिया.’’ उन्होंने कहा कि ये दोनों यात्री एक दूसरे को पहले से पहचानते नहीं थे और न ही इन दोनों के बीच इस घटना से पहले कोई विवाद हुआ था.

श्रीवास्तव ने बताया कि इस मामले में हमने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया और उसके खिलाफ मामला दर्ज कर विस्तृत जांच की जा रही है. मृतक रितेश अपने दोस्त सुमित सिंह के साथ सफर कर रहा था और दोनों ट्रेन के गेट पर बैठे थे. सुमित ने बताया कि राजमल उर्फ़ रज्जू ने रितेश को लात मारने से पहले का कहा कि ‘मुझे तो मरना ही है, इसलिए तुझे मार रहा हूँ.’

शायद अवसाद है वजह

थाना प्रभारी महेन्द्र मिश्रा ने बताया कि हादसे के वक्त आरोपी इलाहाबाद में अपनी माँ की अस्थियां विसर्जित कर अपने घर वापस लौट रहा था, जबकि रितेश इलाहाबाद से भोपाल एक शादी में भाग लेने आ रहा था. कयास लगाया जा रहा है कि जिस वक़्त ये हादसा हुआ उस वक़्त आरोपी राजमल शायद अपनी माँ की मौत की वजह से परेशान था और अवसादग्रस्त था.