कोरोना वायरस के कारण बच्चों में हो रही एक और खतरनाक बीमारी?

Monthly / Yearly free trial enrollment

कोरोना वायरस के खिलाग दुनिया भर में जंग चल रही है। इस खतरनाक बीमारी के कारण दुनियाभर के कई देशों में लॉकडाउन चल रहा है लेकिन जहां विश्व कोरोना की महामारी झेल रहा है, उसी की तर्ज पर एक और बीमारी ने दुनिया में दे दी है दश्तक आपको बताना चाहेंगे कि अमरीका और ब्रिटेन के कुछ बच्चों में इन दिनों एक गंभीर और दुर्लभ बीमारी के मामलें सामने आरहे है। इस बीमारी का सम्बन्ध कोरोना वायरस संक्रमण से जोड़ा जा रहा है।

ये बीमारी कुछ बच्चों के लिए घातक रूप ले सकती है और उन्हें आईसीयू में तक पहुंचा सकती है। ब्रिटेन में अब तक क़रीब 100 बच्चे इस बीमारी की चपेट में आ चुके हैं, अध्ययन से पता चल है कि यूरोप में अन्य जगहों पर भी बच्चों में ऐसी ही बीमारी के लक्षण देखे जा रहे हैं, जो एक चिंता का विषय है। ये बीमारी ‘कावासाकी डिज़ीज़’ से मिलती-जुलती है। कावासाकी बीमारी की वजह से बच्चों की रक्त कोशिकाएं फूल जाती हैं और उनके पूरे शरीर पर लाल चकत्ते निकल आते हैं। बच्चों को तेज़ बुख़ार आता है और उनकी आंखें भी लाल हो जाती हैं।

इस नई बीमारी का सम्बन्ध कोरोना वायरस संक्रमण के बाद शरीर में पैदा हुई एंटीबॉडी से बताया जा रहा है। खबरों के अनुसार जिन बच्चों का इम्यून सिस्टम कोरोना वायरस पर देर से प्रतिक्रिया दे रहा है, उनमें इस बीमारी की चपेट में आने की आशंका ज़्यादा है। कोरोना अभी दुनिया भर से गया भी नहीं और यह एक और बीमारी बेशक तोर पर एक चिंता का विषय है। कोरोना के मामलें दी प्रति दिन बढ़ते जा रहे है , शोध जारी है फिर अभी वैक्सीन का कोई ठोस दवा सामने नहीं आई है उसके बाद यह यह बीमारी मुश्किलें और पैदा कर सकता है।

यह भी पढ़ें : बुढ़ापे में घुटने का दर्द से बचने के लिए क्या उपाय करना चाहिए ?