Friday, August 14, 2020
Home Breaking News Hindi क्या टॉलीवुड की फिल्में बॉलीवुड से बेहतर हैं?

क्या टॉलीवुड की फिल्में बॉलीवुड से बेहतर हैं?

- Advertisement -

टॉलीवुड की मूवी आज किसी पहचान कि मोहताज नहीं है। टॉलीवुड ने Baahubal , Rangasthalam, Magadheera, Rudhrama Devi जैसे शानदार मूवी दी है , बजट की बात करे या फिर कहानी की टॉलीवुड की मूवी बॉलीवुड को कड़ी टक्कर देती है। यह सवाल सबके मन में उठता कि क्या टॉलीवुड की मूवी बॉलीवुड से बेहतर होती है। तो इसमें कोई शक नहीं कि टॉलीवुड के एक्टर्स निर्देशन और स्क्रीनप्ले काफी खास होता है।

अगर आपने ध्यान दिया होगा तो आजकल बॉलीवुड में ठीक ढंग की ना तो कहानी आ रही है। लेकिन साउथ के फिल्मों में आज भी परिवार को दिखाया जाता है उनके रिश्तों की अहमियत बतायी जाती है, समाज में अगर कुछ बुराई है तो उसे कैसे सुधारा जाये उसका जिक्र होता है और सबसे अच्छी बात आप पुरे परिवार के साथ बैठकर देख सकते है |

बॉलीवुड में दक्षिण की हिट फिल्मों के रीमेक खूब पसंद किए जा रहे हैं। इनमे से ज्यादातर फिल्मों ने बॉक्स ऑफिस में अच्छा प्रदर्शन किया है। लेकिन अब सिर्फ रीमेक बनाने का ही नहीं, मूल दक्षिण भारतीय फिल्म के निर्देशक से ही हिंदी फिल्म का भी निर्देशन करवाने का चलन जोरों पर है। बॉलीवुड फिल्म ‘कबीर सिंह‘ का निर्देशन संदीप रेड्डी वांगा ने किया है, जिन्होंने साल 2017 में आई तेलुगू फिल्म ‘अर्जुन रेड्डी’ का निर्देशन किया था। ‘कबीर सिंह’, ‘अर्जुन रेड्डी’ का ही रीमेक थी। इसके अलावा, अक्षय कुमार की आगामी फिल्म ‘लक्ष्मी बम’, हॉरर कॉमेडी फिल्म ‘मुन्नी 2: कंचना’ का रीमेक है, जिसका निर्देशन राघव लॉरेंस ने किया था।

यह भी पढ़ें : 2020 इंडिया की सबसे सेक्सी महिला कौन है ?

साउथ की फिल्में ज्यादा कंटेंट से खेलती है। अच्छी कहानी होने के साथ लाजवाब के एक्शन सीन्स होते जो ऑडियंस को मूवी से बंधे रखते है और बॉलीवुड में अभी भी रोमेंटिक मूवी और हाई स्कूल लव एंगल ही ज्यादा दिखाया जाता है।

- Advertisement -
- Advertisment -

Most Popular