असम के BJP विधायक ने गाय का दूध बढ़ाने का दिया अचूक मंत्र, हो रही है खिंचाई

असम के बीजेपी विधायक दिलीप कुमार पॉल
दिलीप कुमार पॉल

असम के बीजेपी विधायक दिलीप कुमार पॉल ने मंगलवार को अपने हालिया दावे का बचाव किया कि जिसमें उन्होंने कहा था कि भगवान कृष्ण द्वारा बांसुरी के समान धुन सुनने पर गायें अधिक दूध देती हैं। उन्होंने यह भी कहा था कि यह “बहुत प्रतिभाशाली” शोध टीम द्वारा सिद्ध किया गया है।

उन्होंने कहा, “यह मेरा बयान नहीं है। गुजरात की एक बहुत ही प्रतिभाशाली शोध टीम ने शोध किया और यह साबित किया। भगवान कृष्ण ने टाइमपास के लिए बांसुरी नहीं बजाते थे।”

बराक घाटी के सिलचर के एक वरिष्ठ बीजेपी विधायक पॉल ने कहा था कि दूध की मात्रा “कई गुना” बढ़ जाती है जब बांसुरी में एक विशेष धुन में बजाई जाती है जैसे भगवान कृष्ण बजाते थे।

बीजेपी नेता ने शनिवार को एक सांस्कृतिक समारोह के दौरान अपने निर्वाचन क्षेत्र में एक सभा में कहा था: “यह आधुनिक वैज्ञानिकों द्वारा सिद्ध किया गया है कि अगर हम बांसुरी को एक विशेष धुन में बजा सकते हैं, जो भगवान कृष्ण करते थे, तो दूध की मात्रा कई गुना बढ़ जाती है। ”

जब शोध के बारे में विधायक से सवाल किया गया तो उन्होंने दावा किया, गुजरात के एक एनजीओ ने कुछ साल पहले कुछ शोध किए थे, जहां बांसुरी की धुन से दूध की पैदावार में वृद्धि साबित हुई थी।

यह भी पढ़ें- साक्षी महाराज: किसी ने मां का दूध नहीं पिया था, जो मेरा टिकट काटता

उन्होंने कथित तौर पर तकनीक को प्राचीन काल का विज्ञान कहा था और कहा था कि “हम इस तकनीक को आधुनिक समय में वापस लाने जा रहे हैं।”

विधायक ने त्रिपुरा, असम, मेघालय, पश्चिम बंगाल में झरने की सीमाओं के माध्यम से भारत से बांग्लादेश तक मवेशियों की तस्करी के बारे में भी चिंता व्यक्त की और इसे समाप्त करने की मांग की।