हनुमान चालीसा की इन 5 चौपाइयों के जप से होते हैं सभी तरह के कष्ट दूर

religion
हनुमान चालीसा की इन 5 चौपाइयों के जप से होते हैं सभी तरह के कष्ट दूर

हनुमान चालीसा की इन 5 चौपाइयों के जप से होते हैं सभी तरह के कष्ट दूर

हनुमान चालीसा का जाप क्‍यों फायदेमंद माना जाता है, इसकी भी एक बड़ी वजह बताई गई है। यह कथा हनुमान जी के बाल अवतार से जुड़ी है। बचपन में जब हनुमानजी को काफी भूख लगी थी तो उन्होंने आसमान में चमकते हुए सूरज को एक फल समझ लिया था।

उनके पास तब ऐसी शक्तियां थीं जिसके द्वारा वे उड़कर सूरज को निगलने के लिए आगे बढ़े, लेकिन तभी देवराज इन्द्र ने उन पर ऐसा प्रहार क‍िया कि वे मूर्छित हो गए।”

इन्द्रदेव ने हनुमानजी को वरदान दिया कि “मेरा वज्र भी इस बालक को नुकसान नहीं पहुंचा पायेगा।” सूर्यदेव ने भी कहा कि “इस बालक को में अपना तेज प्रदान करता हूं।” यमदेव ने वरदान दिया कि “यह बालक सदा निरोगी एवं मेरे दण्ड से मुक्त रहेगा”।

कुबेर ने आशीर्वाद दिया कि “युद्ध में हनुमान कभी विषादित नहीं होगा तथा राक्षस भी इनको कभी हरा नहीं पाएंगे”। देवो के देव शिव ने भी अपना अभय वरदान हनुमान को दिया।

हनुमान चालीसा जप

इन सभी वरदानों को प्राप्त कर, भगवान हनुमान जी कलयुग के प्रमुख एवं पूजनीय देवों में गिने जाते हैं। तुलसीदास जी द्वारा लिखी गयी, काव्यात्मक कृति ‘हनुमान चालीसा’ खुद में हज़ारों और लाखों मन्त्रों के समान शक्तिशाली बताई गयी है।

वैसे तो पूरी ही हनुमान चालीसा बहुत महत्वपूर्ण है किन्तु हनुमान चालीसा की यह निम्न 5 चौपाइयां ही अगर सही से निरंतर जाप की जाए, तो सभी दुखों से इंसान को मुक्त कर सकती हैं।

हनुमान जयंती पर पवनपुत्र की चालीसा का जाप आपको तमाम लाभ देगा। अगर आप पूरा जाप न कर सकें तो इन 5 चमत्‍कारी चौपाइयों का जाप कर सकते हैं –

हनुमान चालीसा
  1. भूत-पिशाच निकट नहीं आवे। महावीर जब नाम सुनावे।।
    कौन करे जाप : इस चौपाइ का निरंतर जाप उस व्यक्ति को करना चाहिए जिसे किसी का भय सताता हो। सुबह और शाम में 108 बार जाप किया जाए तो सभी प्रकार के भय से मुक्ति मिलती है।
  1. नासै रोग हरै सब पीरा। जपत निरंतर हनुमत बीरा।।
    कौन करे जाप : यदि कोई व्यक्ति बीमारियों से घिरा रहता है, अनेक इलाज कराने के बाद भी वह सुख नही पा रहा, तो उसे इस चौपाई का जाप करना चाहिए।
  1. अष्ट-सिद्धि नवनिधि के दाता। अस बर दीन जानकी माता।।
    कौन करे जाप :यह चौपाई व्यक्ति को समस्याओं से लड़ने की शक्ति प्रदान करती है। यदि किसी को भी जीवन में शक्तियों की प्राप्ति करनी हो, ताकि वह कठिन समय में खुद को कमजोर ना पाए तो सुबह के समय आधा घंटा इन पंक्तियों का जाप फायदा देगा।
  2. विद्यावान गुनी अति चातुर। रामकाज करिबे को आतुर।।
    कौन करे जाप : यदि किसी व्यक्ति को विद्या और धन चाहिए तो इन पंक्तियों के जप से हनुमान जी का आशीर्वाद प्राप्त हो जाता है।
  3. भीम रूप धरि असुर संहारे। रामचंद्रजी के काज संवारे।।
    कौन करे जाप : जीवन में ऐसा कई बार होता है कि तमाम कोशिशों के बावजूद कार्य में विघ्न प्रकट होते हैं। यदि आपके साथ भी कुछ ऐसा हो रहा है तो उपरोक्त दी गई चौपाई का कम से कम 108 बार जप करें, लाभ होगा।

यह भी पढ़ें : जानें रामानंद सागर की रामायण में मंथरा का किरदार किस बॉलीवुड अभिनेत्री ने निभाया

Today latest news in hindi के लिए लिए हमे फेसबुक , ट्विटर और इंस्टाग्राम में फॉलो करे | Get all Breaking News in Hindi related to live update of politics News in hindi , sports hindi news , Bollywood Hindi News , technology and education etc