नक़वी: सरकार ने बुंदेलखंड के विकास के लिए दिए 80 हज़ार करोड़ रुपए, होगा यह काम

केंद्र सरकार पूर्वी उत्तर प्रदेश (पूर्वांचल) और बुंदेलखंड के लगभग 40 जिलों में अगले आने वालों पांच सालों में 80 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा का फण्ड देगी। सरकार ने इसके लिए योजना बना ली है। इस बारें में केंद्रीय अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने बताया। नकवी अपने दो दिवसीय दौरे पर वह 10 सितम्बर को प्रयागराज आए थे तब उन्होंने यह जानकारी दी थी।

केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी प्रयागराज दौरे के दौरान भदारी स्थित अपने पैतृक गांव में मोहर्रम के जुलूस में भी शामिल हुए थे। उन्होंने बताया कि पूर्वांचल और बुंदेलखंड क्षेत्र में सड़क, बिजली, स्वास्थ्य, शिक्षा, जल संरक्षण, सौर ऊर्जा परियोजनाओं, पुलों, डैम के निर्माण पर जोर दिया जायेगा।

निर्माण कार्य हेतु केंद्र सरकार अंतर मंत्रालय कार्य बल का गठन किया है। यह गठन इसलिए किया गया है जिससे इन प्रोजेक्ट्स की निगरानी की जा सके। सरकार के इस कदम से पूर्वी उत्तर प्रदेश और बुंदेलखंड इलाके में विकास बढ़ेगा जिससे नयी नौकरियां पैदा होंगी।

इसके अलावा डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर भी बुंदेलखंड की तस्वीर बदलेगा। आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रस्तावित बुंदेलखंड डिफेन्स कॉरिडोर के विकास के लिए लगभग 5,125 हेक्टेयर भूमि की पहचान की है।

यह भी पढ़ें: नोएडा स्टेडियम में पेड़ से लटकी मिली लाश, बेरोज़गारी के कारण की आत्महत्या

अलीगढ़, आगरा, झाँसी, कानपुर, लखनऊ और चित्रकूट में भूमि की अदला-बदली और प्रस्तावित कॉरिडोर के छह नोड्स शामिल हैं, जिसका उद्देश्य भारत में शीर्ष रक्षा विनिर्माण राज्यों के बीच उत्तर प्रदेश को मजबूत करना है। यह कॉरिडोर बुंदेलखंड क्षेत्र के सामाजिक आर्थिक लाभ को बढ़ावा देगा। 21 फरवरी को लखनऊ में यूपी इन्वेस्टर्स समिट 2018 का उद्घाटन करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बुंदेलखंड डिफेंस कॉरिडोर की घोषणा की गई।