60 सालों में कांग्रेस ने देश को लूटा नहीं विकास किया है, नहीं बता पाई कांग्रेस

60 सालों में कांग्रेस ने देश को लूटा नहीं विकास किया है, नहीं बता पाई कांग्रेस

2014 में मोदी ने कहा देश को मजबूत करना है तो भाजपा को लाना होगा क्योंकि कांग्रेस ने 60 सालों में केवल देश को लूटा ही है। अब जब मोदी को चार साल होने वाले हैं और लोग उनसे चार साल का हिसाब मांगते हैं तो वो सीधे तौर पर कांग्रेस को दौषी ठहराते हुए ये कहते हैं कि 60 साल तक लूटने वाले तीन साल का हिसाब मांग रहे हैं।

मोदी का कहना है कि हम योजना बद्ध तरीके से भविष्य के लिए काम कर रहे हैं। इस लिए अगर हमारे काम का असर भविष्य में ज्यादा दिखेगा और यही कारण है कि हमें 2019 में फिर से केन्द्र में लाना जरूरी है।

अपने आप को साबित नहीं कर पाई कांग्रेस

बड़ी बात ये है कि मोदी शुरूआती दिनों से ही चिल्ल-चिल्ला के कह रहे हैं कि कांग्रेस ने 60 सालों में देश को लूटने का काम किया है। और कांग्रेस की बड़ी असफलता ये है कि इतने दिनों में कांग्रेस ये साबित नहीं कर पाई है कि हमने देश में विकास किया ना कि देश को लूटा है। मोदी ने ना केवल कहा है बल्कि अपनी वाक-पटूता से देश को ये विश्वास भी दिलाया है।

बीजेपी ने कांग्रेस से सबकुछ छीन लिया

बीजेपी ने कांग्रेस से ना केवल सत्ता छीन लिया बल्कि उसके उन महापुरूषों को भी अपना लिया जो पक्के कांग्रेसी थे। पटेल के साथ कांग्रेस ने अन्याय किया ये कहकर देश को एक करने के लिए उन्होंने पटेल को एक हीरो के माफिक पेश किया और आज मोदी पटेल की विरासत को याद दिलाने वाले के रूप में जाने जाते हैं। इसी तरह मदनमोहन मालवीय कांग्रेस के अध्यक्ष थे लेकिन बीजेपी ने उन्हें भारतरत्न देकर मैदान मार ली।

अब गुजरात-हिमाचल में हार के बाद कांग्रेस को इस हार से उबरने के लिए 2024 तक इंतजार करना। इसके अलावा कांग्रेस के पास दूसरा कोई विकल्प नहीं है।