गरीबों के खाते में 10,000 रुपये डालने के लिए केंद्र पर दबाव बनाएगी कांग्रेस : सचिन पायलट

गरीबों के खाते में 10,000 रुपये डालने के लिए केंद्र पर दबाव बनाएगी कांग्रेस : सचिन पायलट

राजस्थान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट (फाइल फोटो)

खास बातें

  • 28 मई को देश भर में डिजिटल प्लेटफॉर्म पर गरीबों की आवाज उठाएगी पार्टी
  • केंद्र सरकार मजदूरों के खातों में दस हजार रूपये डाले
  • इसके लिए सरकार पर दबाव बनाएगी कांग्रेस पार्टी

जयपुर:

राजस्थान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने बुधवार को कहा कि पार्टी 28 मई को देश भर में डिजिटल प्लेटफॉर्म और सोशल मीडिया पर गरीबों की आवाज उठाएगी और उनके खाते में 10,000 रुपये डालने के लिये केंद्र सरकार पर दबाव बनाएगी. उन्होंने कहा कि लॉकडाउन का चौथा चरण चल रहा है और ये हालात हैं कि तमाम कोशिशों के बाद भी देश के सबसे गरीब तबके तक आर्थिक मदद नहीं पहुंची है. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार बड़ी-बड़ी घोषणाएं कर रही है, पैकेज का ऐलान कर रही है, लेकिन गरीब के हाथ में पैसा नहीं पहुंचा है. पायलट ने कहा कि डिजिटल मुहिम के तहत हम देश के प्रत्येक गरीब के खाते में 10,000 रुपये डालने की मांग केंद्र सरकार से करेंगे.

उन्होंने कहा कि बाजार में मांग पैदा करने के लिये गरीबों की जेब में पैसा डालना जरूरी है. उन्होंने कहा कि राजस्थान में 40 लाख लोग मनरेगा के तहत रोजगार पा रहे हैं और हमने केंद्र सरकार से मनरेगा में 100 दिन रोजगार के प्रावधान को बढ़ाकर 200 दिन करने की मांग की है. उन्होंने केंद्र सरकार पर हमला करते हुए कहा कि वह लॉकडाउन 4.0 के बाद क्या होगा, इस बारे में कोई ठोस योजना या रणनीति अभी तक नहीं बना पाई है.

उन्होंने मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का एक साल पूरा होने पर प्रस्तावित कार्यक्रमों पर भी कटाक्ष किया. पायलट ने कहा, ‘केन्द्र सरकार अलग-अलग कार्यक्रम कर रही है. ऑनलाइन रैलियां, प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रही है, लेकिन यह समय है पारदर्शिता, सहानुभूति, करुणा दिखाने और सबको साथ लेकर चलने का. आज अपनी पीठ थपथपाने का समय नहीं है, फिर भी जश्न मनाया जा रहा है और उपब्धियां गिनाई जाएगी.’

Source link