क्या सच में कोरोना वायरस के बारे में शिव पुराण में चर्चा की गई है ?

shivpuran
shivpuran

क्या कोरोना वायरस के बारे में शिव पुराण में चर्चा की गई है?

कोरोना वायरस का कहर जारी है , लगभग 10 लाख से ज्यादा लोगों के कोरोना वायरस की चपेट में आने की खबर सामने आयी है। कोरोना के प्रकोप से बचने के लिए लोग अपने घर में है , कई तरह की सावधानियां बरत रहे है ताकि वो कोरोना वायरस के संक्रमण में ना आये , एक पोस्ट सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है कि शिव पुराण में कोरोना वायरस के बारे उल्लेख है।

कोरोना वायरस की त्रासदी से जहाँ पूरा विश्व जुज रहा है। वही कुछ लोग तरह – तरह की चीजें शेयर कर रहे है कोई कहता है की इस चीज़ का सेवन करने से कोरोना दूर जायेगा।

कोरोना वायरस के बारे में शिव पुराण में

क्या सच में शिव पुराण में कोई लेख है ?

एक खबर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुई कि अगर आप कोरोना वायरस से बचना चाहते है तो तो शिव पुराण में वर्णित कोरोना रक्षा कवचम् का जप करें। लेकिन पड़ताल के बाद पता चला कि शिव पुराण में कोरोना वायरस का कही भी उल्लेख नहीं है, यह अफवाह फैलाई जा रही है। वही आपको जानकरी के लिए बताना चाहेंगे की कोरोना रक्षा कवचम् शिव पुराण में है ही नहीं और शिव पुराण से कोरोना रक्षा कवचम् का कोई सम्बन्ध नहीं है।

यह सिलसिला शिवपुराण तक ही सीमित नहीं है। कोरोना वायरस को धर्म ग्रंथों से जोडकर देखा जा रहा है। कोई कहता है की कोरोना कुरान से निकला है। आपकी ज्यादा जानकारी बताना चाहेंगे की अभी तक कोरोना वायरस का उल्लेख किसी भी धार्मिक ग्रंथ में नहीं हुआ है। इसकी सत्यता का प्रमाण अभी तक किसी के समक्ष नहीं आया है।

 कोरोना वायरस के बारे में

कोरोना वायरस सिर्फ चीन से निकला एक वायरस है जो एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में संकर्मित हो सकता है, इसलिए घर पर बैठे रहें और इस तरह के फेक न्यूज़ से बचे रहें क्योकि कोरना बहुत तेजी से फैलने वाला वायरस है जब आप छिक्तें या खांसते है तो यह वायरस हवा में कुछ घंटें तक जीवित रह सकता है। इसलिए हमेशा मास्क पहने तथा हाथों को ढक कर रखे।

पूरी दुनिया कोरोनावायरस से लड़ रही है। अब तक कोरोना वायरस के कारण लगभग 37,846 लोगों की मौत हो गई। यह जानलेवा वायरस एक व्यापक बीमारी बन गई है। कोरोनावायरस को एक सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल के रूप में घोषित किया गया है क्योंकि इसने लोगों के मन में भय पैदा किया है और दुनिया भर में लाखों लोगों को प्रभावित किया है।

जरूर पढ़ें – कोरोना वायरस के कारण देश में सबसे पहले लॉकडाउन कौन से राज्य ने लगाया