भतीजे के जन्म का जश्न मनाना दलित किशोर को पड़ा भारी

किशोर
भतीजे के जन्म का जश्न मनाना दलित किशोर को पड़ा भारी

पंजाब के मानसा जिले में एक दलित किशोर को अपने भतीजे का जन्म का जश्न बना देना भारी पड़ गया. दलित किशोर को जिंदा जलाकर मार डा़लन के दर्दनाक घटना सामने आई है. यह घटना उस वक्त की है जब किशोर अपने भतीजे के जन्म का जश्न मना रहा था. वहीं मृतक के परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने तीन लोगों के खिलाफ केश दर्ज कर लिया है.

बता दें कि मृतक दलित किशोर की पहचान जसप्रीत सिंह के रूप में हुई है. वह मजहबी सिख परिवार से आता था. यह भी बताया जा रहा है कि जसप्रीत सिंह के भाई कुलविंदर सिंह ने 2 साल पहले एक पड़ोसी की लड़की के साथ भागकर शादी कर ली थी, हाल ही में उनके यहां एक बच्चे ने जन्म हुआ था.

वहीं दूसरी और आरोपी की पहचान लड़की के भाई और चचेरे भाई के रूप में हुई है. आरोपियों में तीसरे साथी राजू ने उस किशोर का हाथ बांधकर उसके शरीर में पेट्रोल फेंका. जिंदा जलाने की घटना के बाद गंभीर हालत में किशोर को अस्पताल ले जाया गाय जहां पर ड़ॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

यह भी पढ़ें : हर्ष फायरिंग के चलते हुई मौत, लाश को फेंक मनाते रहें जश्न

हालांकि इस मामले पर किसी को भी गिरफ्तार नहीं किया गया है. वहीं दूसरी और मृतक के पिता सूरत सिंह ने कहा कि उसका केवल इतना ही दोष था कि वह लोगों को बता रहा था कि उसके भाई के घर बेटा हुआ है. इधर, डीएसपी सुरेंद्र शर्मा ने कहा कि इस मामले को लेकर जांच पड़ताल चल रही है और जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएंगा.