Lockdown 4 आज से शुरू : दिल्ली के ऑटो चालकों ने CM केजरीवाल से लगाई गुहार

Lockdown 4 आज से शुरू : दिल्ली के ऑटो चालकों ने CM केजरीवाल से लगाई गुहार

दिल्ली के ऑटो रिक्शा चालकों ने सीएम अरविंद केजरीवाल से गुहार लगाई है

नई दिल्ली:

कोरोना वायरस लॉकडाउन 4 आज से शुरू हो गया है और 31 मई तक के लिए तय किया गया है. 25 मार्च से शुरू हुए इस लॉकडाउन का असर सबसे ज्यादा नीचे तबके के लोगों को हो रहा है. दिल्ली-एनसीआर में जहां प्रवासी मजदूरों का पलायन जारी है वहीं अब रिक्शा और ऑटो रिक्शा ड्राइवरों का भी सब्र टूट रहा है. इन लोगों ने दिल्ली सरकार से गुहार लगाई है कि उन्हें कम से कम रोजी-रोटी के लिए इन्हें चलाने की इजाजत दी जाए. साथ ही यह भी वादा किया कि वे सभी नियमों का पालन करते हुए सिर्फ 1 ही यात्री को बैठाएंगे.  लॉकडाउन 4.0 शुरू होने के साथ दिल्ली में सोमवार से और भी आर्थिक गतिविधियां बहाल होने की संभावना है. राष्ट्रीय राजधानी रेड जोन की श्रेणी से बाहर आ सकती है, जो इस समय पूरी तरह इस जोन में है. केंद्र द्वारा रविवार को राज्यों को अपने हिसाब से रेड, ग्रीन और ऑरेंज जोन तय करने के अधिकार दिये जाने के बाद इस तरह की संभावना है.

लॉकडाउन के तीसरे चरण के अंतिम दिन रविवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में पाबंदियों में ढील के संबंध में विस्तृत योजना सोमवार को घोषित की जाएंगी.  उन्होंने दावा किया कि केंद्र के लॉकडाउन के चौथे चरण को लेकर जारी ताजा दिशानिर्देश काफी हद तक दिल्ली सरकार के प्रस्ताव के अनुरूप हैं.  दिल्ली सरकार के सूत्रों ने कहा कि आप सरकार लॉकडाउन के अगले चरण में रियायतों के लिए केंद्र सरकार द्वारा घोषित सभी दिशानिर्देशों का पालन करेगी.  इस कदम के साथ दिल्ली सरकार को केंद्रीय दिशानिर्देशों के अनुरूप गतिविधियों की अनुमति देने के लिए और अधिकार मिल जाएंगे.

दिल्ली सरकार ने पहले मांग की थी कि पूरे शहर को रेड जोन घोषित नहीं किया जाए और इसके बजाय नगर निकाय के वार्डों द्वारा कोविड-19 के मामलों को श्रेणीबद्ध किया जाए, जिलों द्वारा नहीं.  केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार इस समय राष्ट्रीय राजधानी के सभी 11 जिले रेड जोन में हैं, जिससे दिल्लवासियों के लिए गतिविधियां ग्रीन तथा ऑरेंज जोन के मुकाबले मुश्किल हो गयी हैं.  सूत्रों ने बताया कि दिल्ली में सोमवार से बाजार खुल सकते हैं, बसें चल सकती हैं। हालांकि बसों में सामाजिक दूरी का नियम बनाये रखने के लिए करीब 20 यात्रियों को ही इजाजत होगी.

केंद्र सरकार ने रविवार को कुछ शर्तों के साथ राज्य के अंदर और राज्यों के बीच सार्वजनिक परिवहन के साधनों की आवाजाही की अनुमति दे दी. नये दिशानिर्देशों में मॉल और निषिद्ध क्षेत्रों को छोड़कर सभी दुकानें खोली जा सकती हैं.लॉकडाउन के चौथे चरण में दिल्ली में शराब की और अधिक दुकानें खुलने की संभावना है. दिल्ली सरकार ने तीसरे चरण में करीब 150 सरकार संचालित दुकानों को ही खोलने की अनुमति दी थी.  राजधानी में शराब की करीब 850 दुकानें हैं.  (इनपुट भाषा से भी)

Source link