प्रियंका गांधी के सरकारी आवास मामले में ताजा बवाल, केंद्रीय मंत्री के बयान से आया Twist

प्रियंका गांधी के सरकारी आवास मामले में ताजा बवाल, केंद्रीय मंत्री के बयान से आया Twist
Monthly / Yearly free trial enrollment

नई दिल्ली: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) द्वारा सरकारी बंगला खाली कराए जाने की बात भी राजनीति का हिस्सा बन गई है. कांग्रेसी नेता प्रियंका गांधी द्वारा सरकारी बंगले पर सफाई के तुरंत बाद बीजेपी नेता और केंद्रीय शहरी विकास मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) ने कहा है कि एक बड़े कांग्रेसी नेता ने उन्हें लोधी एस्टेट स्थित सरकारी बंगला पार्टी के किसी सांसद को आवंटित करने का अनुरोध किया था. शहरी विकास मंत्री का बयान ऐसे वक्त आया है जब खुद प्रियंका गांधी ने सफाई दी थी कि उन्होंने कभी बंगला खाली करने के लिए मोहलत नहीं मांगी.

ट्विटर पर जंग जारी
केंद्रीय शहरी विकास मंत्री मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने प्रियंका गांधी द्वारा सुबह डाले गए ट्विट पर प्रतिक्रिया देते हुए मामले को गर्मा दिया है. बीजेपी नेता ने कांग्रेस महासचिव के बयान को री-ट्विट करते हुए लिखा है ‘कांग्रेस के एक बड़े नेता ने मुझे 4 जुलाई को फोन करके अनुरोध किया कि 35, लोधी एस्टेट वाला सरकारी बंगला किसी कांग्रेसी सांसद को आवंटित कर दिया जाए. ताकि प्रियंका गांधी वाड्रा उसी आवास पर रह सकें.’

1 अगस्त को खाली होगा प्रियंका का सरकारी बंगला
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने सुबह ही कहा था कि वह नई दिल्ली के लोधी एस्टेट इलाके में स्थित अपना सरकारी बंगला एक अगस्त तक खाली कर देंगी. साथ ही उन्होंने उस खबर को ‘फर्जी’ करार दिया जिसमें दावा किया गया था कि प्रियंका के आग्रह पर सरकार ने उन्हें इस अवास में कुछ और समय तक रहने की अनुमति दे दी है.

कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक, प्रियंका पार्टी की उत्तर प्रदेश प्रभारी होने की वजह से अब ज्यादा समय राज्य में बिताएंगी और लखनऊ में गोखले मार्ग स्थिति शीला कौल के आवास में रहेंगी. यह मकान खाली पड़ा है और फिलहाल इसकी मरम्मत और रंगाई-पुताई का काम चल रहा है. शीला कौल देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू की भाभी थीं. वह केंद्रीय मंत्री औेर राज्यपाल भी रहीं. साल 2015 में उनका निधन हो गया था.

गौरतलब है कि केंद्रीय आवास एवं शहरी कार्य मंत्रालय ने प्रियंका से नयी दिल्ली स्थित सरकारी बंगला एक अगस्त तक खाली करने को कहा है. उसकी ओर से जारी आदेश में कहा गया कि एसपीजी सुरक्षा वापस लिए जाने के बाद उन्हें मौजूदा आवास ‘35 लोधी एस्टेट’ खाली करना पड़ेगा क्योंकि जेड प्लस की श्रेणी वाली सुरक्षा में आवास सुविधा नहीं मिलती.

यह भी पढ़ें :क्या सर्दियों में कोरोना का विकराल रूप आएगा सामने?

सरकार ने पिछले साल नवंबर में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और प्रियंका गांधी की एसपीजी सुरक्षा वापस ले ली थी तथा उन्हें जेड-प्लस श्रेणी सुरक्षा दी थी. (भाषा इनपुट)

Source link