कोरोना वायरस के लक्षण नहीं दिखने पर कैसे पता चलेगा कि कौन संक्रमित है?

news
कोरोना वायरस के लक्षण नहीं दिखने पर कैसे पता चलेगा कि कौन संक्रमित है?

कोरोना वायरस के लक्षण नहीं दिखने पर कैसे पता चलेगा कि कौन संक्रमित है

कोरोना वायरस -वायरस का एक बड़ा परिवार है जो बीमारी का कारण हो सकता है। जानवरों या मनुष्यों में। आम सर्दी से लेकर अधिक तक श्वसन संक्रमण का कारण (MERS) जैसे गंभीर रोग और गंभीर तीव्र श्वसन सिंड्रोम (SARS)। कोरोना वायरस की महामारी दुनिया भर में बढ़ रही है, वैसे वैसे वैज्ञानिकों को नए कोरोना वायरस के बारे में एक अजीब, मगर बेहद चिंताजनक बात के सबूत पर सबूत मिल रहे हैं। इस वायरस के शिकार होने वाले बहुत से लोगों में खांसी, बुख़ार और स्वाद व गंध का पता न चलने के लक्षण दिखाई देते हैं।

मगर, इससे संक्रमित कई ऐसे भी लोग हैं, जिनमें कोई लक्षण ही नहीं दिखते। और, इसी वजह से उन्हें कभी पता ही नहीं चलता कि वो कोविड-19 की बीमारी अपने साथ लेकर घूम रहे हैं। ये ठीक वैसे ही है, जैसे कोई इंसान अपनी जेब में बम लेकर चल रहा हो, और उसे इसकी ख़बर ही न हो।

corona

कोरोना वायरस पर रिसर्च करने वालों का कहना है कि दुनिया में कितने लोग वायरस से ऐसे संक्रमित हैं कि उनमें लक्षण नहीं हैं, इस बात का पता लगना बेहद ज़रूरी है। क्योंकि इसी से हमें ये पता चलेगा कि क्या ये ‘साइलेंट स्प्रेडर’ या गुप चुप तरीक़े से वायरस फैला रहे लोग ही महामारी का दायरा बढ़ा रहे हैं।

corona facts

नए कोरोना वायरस के ‘साइलेंट स्प्रेडर’ का अंदाज़ा सबसे पहले सिंगापुर के डॉक्टरों को हुआ था। 19 जनवरी को जब सिंगापुर की एक चर्च में लोग सर्विस के लिए जमा हुए थे, तो उन्हें इस बात का क़तई अंदाज़ा नहीं था कि उनकी इस प्रार्थना सभा का असर पूरी दुनिया में कोरोना वायरस के प्रसार पर पड़ने जा रहा है।जब वो चर्च की बैठक में शामिल होने के लिए आए, तो बिल्कुल स्वस्थ दिख रहे थे। ऐसे में ये शक करने की कोई वजह नहीं बनती थी कि वो अपने साथ कोरोना वायरस लेकर घूम रहे हैं।

यह भी पढ़ें : कोरोना से ग्रसित मरीजों के लिए खून के थक्के कैसे बन रहे है मुसीबत का सबब?

इस साल जनवरी के महीने तक यही माना जा रहा था कि कोविड-19 का सबसे बड़ा लक्षण लगातार ख़ांसी का आना है।हैरान करने वाली बात ये थी कि इनमें बीमारी के कोई लक्षण ही नहीं थे। उस वक़्त दुनिया को कोविड-19 के बारे में जितना पता था, उससे इन नए मरीज़ों के बीमार होने की कोई वजह, ऊपरी तौर पर तो दिखाई नहीं दे रही थी।

Today latest news in hindi के लिए लिए हमे फेसबुक , ट्विटर और इंस्टाग्राम में फॉलो करे | Get all Breaking News in Hindi related to live update of politics News in hindi , sports hindi news , Bollywood Hindi News , technology and education etc.