क्या कोरोना से निपटने के लिए इनहेलर बनेगा रामबाण?

कोरोना वायरस का कहर थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। दुनियाभर में कोरोना का आकड़ा 50 लाख के पार जा पहुंचा है। अभी तक इस घातक वायरस की कोई वैक्सीन या दवा सामने नहीं आई है हालांकि वैज्ञानिकों की एक नई खोज कोरोना के सन्दर्भ में सामने आई है। वैज्ञानिकों द्वारा ने एक ऐसा इनहेलर विकसित किया है जो कोरोना के प्रथम लक्षण का सामना कर उससे निजात दिला सकेगी और कोरोना के घातक असर को नहीं बढ़ने देगी।

आपको बताना चाहेंगे कि ब्रिटिश कंपनी सिनायर्जन द्वारा कोरोना वायरस से ग्रसित मरीजों के लिए एक खास तकनीक SNG001 इनहेलर को बनाया गया है। इसके ट्रायल के लिए 220 मरीज शामिल हैं, जिन्हें उनके लक्षण दिखने के बाद तीन दिन के भीतर इनहेलर दिया जाएगा। वैज्ञानिक इस इनहेलर की फाइनल टेस्टिंग के लिए तैयार है। खबरों के अनुसार SG016 ट्रायल काफी संतोषजनक रहा और इस दौरान 98 रोगियों को इसका डोज द्वारा किया गया। इसका टॉप लाइन डेटा जुलाई में आने की संभावना है। जहां दुनियाभर में कोरोना एक मुसीबत का सबब बन चुका है। अधिकतर लोग अपने घरों में कैद है और जिनको कोरोना के माइल्ड लक्षण सामने आरहे है। उनके लिए यह इनहेलर बेशक तोर पर राहत प्रदान करेगा।

कोरोना ने पहले ही दुनियाभर में आतंक मचा रखा था अब यह दिन प्रति दिन घातक रूप में तब्दील होता जा रहा है। अब तक दुनियाभर में कोरोना से जंग लड़ कर 3,263,869 लोग ठीक हो चुकें है और 393,535 लोगो को कोरोना के संक्रमण के कारण अपनी जान गावनि पड़ी। कोरोना से बचने का एक मात्र तरीका अभी तक सोशल डिस्टन्सिंग ही सामने आया है।

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस के लक्षण नहीं दिखने पर कैसे पता चलेगा कि कौन संक्रमित है?