क्या कोरोना वायरस डेंगू से ज्यादा खतरनाक है ?

IIMAGE SOURCE :GOOGLE
IMAGE SOURCE :GOOGLE
Monthly / Yearly free trial enrollment

क्या कोरोना वायरस डेंगू से ज्यादा खतरनाक है ?

कोरोना वायरस का आतंक दुनियाभर में दीमक की तरह फैलता जा रहा है। चीन से फैला यह घातक वायरस बहुत तेज़ी से विश्वभर में अपने पैर पसार रह है। लाखों लोग इस वायरस की चपेट में आगये है।

ऐसा ही कुछ आतंक डेंगू की वजह से भी फैला था , मच्छर के काटने से डेंगू फैलता है. अन्य वायरस के मुकाबले इसका मृत्यु दर काफी कम है. लेकिन इसमें इबोला जैसे लक्षण हो सकते हैं, 2019 में अमेरिका ने डेंगू के टीके को अनुमति दी।

डेंगू

कोरोना वायरस और डेंगू

आपको बताना चाहेंगे कि कोरोनावायरस आकार में डेंगू, वेस्ट नाइल और जीका फैलाने वाले वायरसों से तीन गुना बड़ा और खतरनाक है। टेक्सस मेडिकल ब्रांच के वायरोलॉजिस्ट विनीत मैनचेरी ने एक उदाहरण से इसे समझाया।

उनके मुताबिक, अगर डेंगू के पास शरीर पर हमला करने के लिए एक हथौड़ा है तो कोरोना के पास अलग-अलग आकार के तीन हथौड़े हैं। यह हालात बदलने पर अपनी प्रकृति बदलकर हमला करता है।

कोरोना वायरस और डेंगू

इससे आप इस वायरस की शक्ति का अंदाज़ा लगा सकते है। यह वायरस सामान्य रेस्पिरेटरी (श्वसन) वायरस से बिल्कुल अलग है। आमतौर पर ये वायरस शरीर में एक समय पर एक जगह हमला करते हैं। अगर ये गले और नाक पर हमला करते हैं तो वहीं तक रहते हैं और खांसी और छींक के माध्यम से दूसरों तक संक्रमण फैलाते हैं।

कुछ वायरस फेफड़ों पर हमला करते लेकिन वे संक्रमण नहीं फैलाते, लेकिन यह जानलेवा बन जाते हैं। कोरोनावायरस दोनों जगह एक साथ हमला करता है। यह गले और नाक के माध्यम से संक्रमण भी फैलाता है और फेफड़े में कोशिकाओं को मारकर जान भी ले लेता है।

दुनियाभर में कोरोना वायरस की चैन को खत्म करने का एक मात्र उपाय social distancing ही सामने आया है , इस वायरस का सबसे घातक रूप है कि अगर एक भी इंसान कोरोना वायरस से संकर्मित है तो यह वायरस उस व्यक्ति के संपर्क में आये बहुत से लोगों को संकर्मित कर सकता है।

यह भी पढ़ें : कोरोना वायरस शरीर में जाने के बाद क्या-क्या करता है उसके क्या प्रभाव होते हैं ?