ITBP जवान ने अपने पांच साथियों को मारकर खुद को भी गोली से उड़ाया, यह था कारण-

ITBP
ITBP जवान ने अपने पांच साथियों को मारकर खुद को भी गोली से उड़ाया, यह था कारण-

इंडो तिब्बतन बॉर्डर पुलिस (ITBP) के कडेनार बेस कैंप में एक जवान ने अपने पांच साथी जवानों को जान से मार दिया है। इसके अलावा दो की हालत गंभीर बनी हुई है। दक्षिण छत्तीसगढ़ के नारायणपुर के सबसे ज्यादा नक्सल प्रभावित जिलों में से यह घटना हुई। अपने पाँच साथियों को मारने के जवान ने अपनी सर्विस रिवॉल्वर AK-47 से खुद को मार लिया।

बस्तर पुलिस महानिरीक्षक पी सुंदरराज ने 45 वीं बटालियन आईटीबीपी शिविर में इस कथित गोलीबारी की पुष्टि की।

प्रारंभिक जानकारी से पता चला है कि नक्सल बेल्ट में स्थित उनके शिविर में ITBP के जवानों के बीच कुछ हाथापाई हुई थी। एक जवान ने अपने साथियों पर गोलियां चलाईं और बाद में उसने खुद को गोली मार ली। राज्य के गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि हमें इस चौंकाने वाली घटना के पीछे के वास्तविक कारण का पता लगाना है और सुरक्षाकर्मियों के बीच झगड़ा हुआ है।

अपुष्ट सूत्रों ने हवाला दिया कि कथित तौर पर उनकी सर्विस रिवॉल्वर से गोली चलाने वाले जवान छुट्टी चाहता था लेकिन उसे छुट्टी नहीं मिली इससे वह बहुत परेशान था। बुधवार की सुबह शिविर में अन्य सैनिकों के साथ उसकी कुछ बहस हो गयी।

यह भी पढ़ें- ये 7 बातें पत्नियाँ पति को कभी नहीं बताती है, यकीन न हो तो पढ़ें-

हाथापाई करने वाले जवानों पर काबू पाने के लिए हस्तक्षेप करने वाले दो अन्य जवानों को भी गोली लगी। उनकी स्थिति गंभीर बताई गई है, उन्हें तत्काल चिकित्सा के लिए रायपुर भेज दिया गया है।

इस घटना ने संघर्ष-विहीन बस्तर क्षेत्र में माओवाद विरोधी अभियानों में तैनात सशस्त्र बलों को चिंतित कर दिया है।