उत्तर प्रदेश में विधानसभा का मानसून सत्र हुआ शुरू, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को दी श्रद्धांजलि

लखनऊ: यूपी में आज विधानसभा का मानसून सत्र शुरू हो चुका है. सत्र की शुरुआत पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि देने के साथ की गई है. इस सत्र में सदन में सभी विधायकों और अन्य सदस्यों ने अटल जी को श्रद्धांजलि अर्पित की और उन्हें याद किया गया. अटल जी को श्रद्धांजलि देने के बाद आज सदन की कार्यवाही स्थागित कर दी गई है.

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि देश ने अपना दिग्गज नेता खो दिया- विधानसभा के मानसून सत्र

विधानसभा के मानसून सत्र में भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी को लेकर रखे गए शोक प्रस्ताव में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि देश ने अपना दिग्गज नेता खो दिया है. इस प्रस्ताव में विपक्षी दलों ने भी अपनी राय रखी और सभी ने एक साथ मिलकर कहा कि अटल जी किसी पार्टी के नहीं बल्कि पूरे देश के नेता थे.

यह भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश: लखनऊ पहुचेंगे अटल बिहारी वाजपेयी के अस्थि कलश, निकाली जाएगी यात्रा

अटल ने भारत देश के लिए कई महत्वपूर्ण निर्णय भी लिए- सीएम योगी 

सीएम योगी ने इस दौरान कहा कि अटल जी ने विश्व स्थल पर हिंदी को एक लग पहचान दी. अटल ने भारत देश के लिए कई महत्वपूर्ण निर्णय भी लिए जिससे देश को काफी फायद भी हुआ. सपा और बसपा पार्टी ने भी इस शोक प्रस्ताव में अटल जी के कार्यों को गिनाया. उन्होंने उनके काम की खूब प्रशंसा भी की. ये ही नहीं क्षेत्रीय दलों ने भी पूर्व प्रधानमंत्री की उपल्बधियों का गुणगान किया.

यह भी पढ़ें: पूर्व प्रधानमंत्री अटल जी का अस्थि स्थल बना सेल्फी पॉइंट

लाल जी टंडन ने कहा कि अटल जी का निधन देश के लिए बड़ी क्षति है

वहीं बीजेपी द्वारा बिहार के नए राज्यपाल चुने गए और मायावती के भाई लाल जी टंडन ने कहा कि अटल जी का निधन देश के लिए बड़ी क्षति है. शोक प्रस्ताव में पूर्व पीएम अटल जी को श्रद्धांजलि देने के बाद विधानसभा को स्थगित कर दिया गया है. आपको बता दें कि यह विधानसभा का मानसून सत्र 23 अगस्त से लेकर 31 अगस्त तक चलेगा. इस दौरान सदन में अनुपूरक बजट पेश किया जाएगा. इस दौरान विपक्ष सदन में सत्तापक्ष पर निशाना साधा सकती है. और राज्य में बढ़ती हिंसा व अपराधिक घटनाओं के मुद्दे पर भी विपक्ष का हंगामा देखा जा सकता है.