बुलंदशहर हिंसा के मुख्य आरोपी योगेश राज को आखिरकार पुलिस ने किया गिरफ्तार

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर जिले में कथित गो हत्या के मसले को लेकर पिछले साल तीन दिसंबर को भड़की हिंसा का मुख्य आरोपी और बजरंग दल का जिला संयोजक योगेश राज को हिरासत में ले लिया गया है.

बता दें कि इस हिंसा के एक महीने बाद ही योगेश राज को पुलिस ने धरदबोचा है. इस घटना में पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की हत्या भी कर दी गई थी. योगेश राज पर हिंसक भीड़ को भड़कने का संगीन आरोप है. पुलिस ने राज को बीती रात गिरफ्तार किया है. जानकारी के अनुसार हिंसा के मुख्य आरोपी योगेश की गिरफ्तारी पर एसएसपी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सकते है.

सोमवार को किया आरोपी कलुआ को  गिरफ्तार

पिछले साल तीन दिसंबर के दिन भड़की हिंसा के दौरान पुलिस निरीक्षक सुबोध कुमार सिंह पर कुल्हाड़ी से हमला करने के आरोप में सोमवार को यूपी पुलिस ने कलुआ नाम के एक आरोपी को गिरफ्तार किया था. पुलिस के तहत इस मामले में अब तक 33 आरोपियों की गिरफ्तारी की जा चुकी है.

आरोपी कलुआ ने पुलिस को बताया है कि तीन दिसंबर को वह सड़क को रोकने के लिए पेड़ गिरा रहा था, जैसे ही पुलिस निरीक्षक ने उसे रोकने की कोशिश को तो उसने अधिकारी पर कुल्हाड़ी से वार किया. इससे पहले पुलिस अधिकारियों ने 27 दिसंबर को आरोपी प्रशांत नट को हिरासत में लिया था. उसने कुल्हाड़ी से हमले करने के बाद सुबोध कुमार सिंह की कथित रूप से गोली मारकर हत्या कर दी थी.

27 दिसंबर को आरोपी प्रशांत नट को हिरासत में लिया गया 

ये ही नहीं भीड़ की इस जबरदस्त हिंसा और गो हत्या के मामले में 18 दिसंबर को 5 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार भी किया था. आपको बता दें कि महवा गांव के एक खेत के पास गाय का शव मिलने के बाद हिंसा और भड़क गई थी. इस हिंसा में निरीक्षक समेत एक युवक की जान गई थी. चिंग्रावती पुलिस चौकी पर हिंसा के बाबत स्याना थाने में 27 नामजद और 50-60 अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई थी. जिस दौरान सेना के जवान जितेंद्र मलिक को भी गिरफ्तार कर लिया गया था, जिसे फिलहाल हिरासत में रखा गया है.