Monday, August 10, 2020
Home Breaking News Hindi गोल्‍ड स्‍मगलिंग केस की जांच करेगी NIA, आरोपी महिला ने जमानत के...

गोल्‍ड स्‍मगलिंग केस की जांच करेगी NIA, आरोपी महिला ने जमानत के लिए दायर की याचिका

- Advertisement -

नई दिल्‍ली: गृह मंत्रालय ने केरल में तिरुवनंतपुरम अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से संबंधित सोना तस्करी के मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को छानबीन करने की इजाजत दे दी. इस बीच, तस्करी गिरोह में कथित तौर पर शामिल वाणिज्य दूतावास की पूर्व महिला कर्मचारी ने अग्रिम जमानत के लिए केरल के हाई कोर्ट में गुहार लगाई. इस मामले में शुक्रवार को सुनवाई होने की संभावना है.

अधिकारियों ने बताया कि जांच की इजाजत दे दी गई है क्योंकि ‘इस घटना का राष्ट्रीय सुरक्षा पर गंभीर असर पड़ सकता है.’ इस फैसले से एक दिन पहले ही केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर राज्य की राजधानी के हवाई अड्डे पर ‘राजनयिक सामान’ से करोड़ों रुपये के सोने की जब्ती की ‘‘प्रभावी जांच के लिए दखल’’ की मांग की थी.

गृह मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने बताया, ‘‘गृह मंत्रालय ने एनआईए को तिरुवनंतपुरम हवाई अड्डे से संबंधित सोना तस्करी मामले में जांच की अनुमति दे दी है क्योंकि संगठित तस्करी से राष्ट्रीय सुरक्षा पर गंभीर असर पड़ सकता है. ’’

खाड़ी से हाल में तिरुवनंतपुरम अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर एयर कार्गो द्वारा लाए गए ‘राजनयिक के सामान’ से 30 किलोग्राम सोना बरामद किया गया था. सीमा शुल्क विभाग ने कहा है कि उसे संदेह है कि तस्करी के गिरोह ने राजनयिक छूट प्राप्त एक व्यक्ति के नाम का दुरुपयोग किया है.

वहीं, भारत ने कहा कि कथित सोना तस्करी मामले में वह संयुक्त अरब अमीरात के दूतावास को लगातार सूचित कर रहा है और मिशन इस संबंध में सीमा शुल्क विभाग का पूरा सहयोग कर रहा है.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने ऑनलाइन प्रेस वार्ता में बताया, ‘‘सीमा शुल्क अधिकारियों ने तय प्रक्रिया के तहत एक बैग जब्त किया जो तिरुवनंतपुरम स्थित संयुक्त अरब अमीरात के वाणिज्य दूतवास के एक अधिकारी के नाम पर विदेश से आया था.’’

कांग्रेस की मांग
उधर, कांग्रेस ने मामले की सीबीआई जांच की मांग करते हुए कहा कि इसमें राज्य एवं केंद्रीय स्तर के, सत्तापक्ष से जुड़े उन लोगों को भी जांच के दायरे में लाया जाना चाहिए जिनके इस अपराध में शामिल होने का संदेह है.

पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने एक बयान में कहा, ‘‘ केरल के हालिया घटनाक्रमों ने कुछ लोगों की केरल की माकपा के नेतृत्व वाली सरकार में उच्च स्तर तक पहुंच को उजागर किया है. इस बात की पूरी आशंका है कि राज्य एवं केंद्र सरकार में मौजूद लोगों की जानकारी अथवा सहयोग के बिना सोने की तस्करी नहीं हो सकती थी.’’

विपक्ष की इस्तीफा की मांग के सवाल के जवाब में विजयन ने विपक्ष को ‘कल्पनाशील कहानियों’ और ‘तुच्छ रणनीति’ से दूर रहने की नसीहत दी. उन्होंने कहा, ‘ जांच एजेंसी तय करना केंद्र का काम है, राज्य सरकार का नहीं और वे पहले ही ऐसा कर रहे हैं.’

इस बीच, कई स्थानीय चैनलों पर वांछित महिला की कथित ऑडियो क्लिप चलाई गई, जिसमें उसने तस्करी मामले में अपनी किसी भी तरह की भूमिका से इनकार किया है.

यह भी पढ़ें :कोरोना से बचने के लिए लगातार मास्क पहनने के क्या हो सकते है दुष्परिणाम

Source link

- Advertisement -
- Advertisment -

Most Popular

फाइनल ईयर की बची हुई परीक्षाएं होंगी या नहीं? आज हो सकता है फैसला

नई दिल्ली: यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन (यूजीसी) ने देशभर के विश्वविद्यालयों को अंतिम वर्ष की परीक्षाएं 30 सितंबर तक आयोजित करवाने का निर्देश दिया...

Madhya Pradesh CM Shivraj Singh Chouhan to donate convalescent plasma for treatment of COVID-19 patients

Madhya Pradesh Chief Minister Shivraj Singh Chouhan on Sunday said he...

दिशा सालियान सुसाइड केस: अब मुंबई पुलिस ने किया चौंकाने वाला खुलासा

नई दिल्ली: मुंबई पुलिस ने रविवार को उन खबरों को खारिज कर दिया, जिसमें कहा जा रहा था कि दिवंगत बॉलीवुड अभिनेता सुशांत...

Sushant Case पर मुंबई पुलिस को लेकर महाराष्ट्र सरकार ने कही ये बात!

नई दिल्ली: महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने शनिवार को कहा कि अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले में राज्य सरकार सीबीआई...