एक बार फिर बरसा जहरीली शराब का कहर

शराब का कहर एक बार फिर देखने को मिला है. मामला यूपी का जहां शराब ने अपना कहर ढाया है. बाराबंकी में रामनगर के रानीगंज में शराब या कहे जहरीली शराब पीने से 7 लोगों कि मौत हो गई. बता दें की मरने वाले एक ही दलित परिवार के बताये जा रहे है, जिससे आसपास के लोगों में भी कोहराम मचा हुआ है.


मृतकों के परिजनों ने इसकी सूचना पुलिस को दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले की जांचपड़ता की और पुलिस ने बताया कि परिवार वालों का कहना है कि खाना खाने के बाद सभी मृतकों ने शराब पी थी. हालांकि पुलिस नें खाने में जहर के संदेह को देखते हुए, खाने की भी जांच कराई थी, लेकिन खाने में किसी प्रकार कि कोई शिकायत नही थी और ना ही खाने में कोई जहर मिला हुआ था.


बता दें कि जिन लोगों ने शराब पी थी उन्ही की मौत हुई है. बाकि परिवार वाले सुरक्षित है. फिलहाल मृतकों में से एक की बॉडी पोस्टमॉर्टम के लिए भेजी गई है. ये मामला शराब का है या फिर खाने का है. ये पोस्टमॉर्टम की रिपोर्ट आने के बाद ही सामने आएगी.


बात करे अगर शराब कि तो इससे पहले भी यूपी और उत्तराखंड में जहरीली शराब के कारण कई लोगों की जान गई है. सहारनपुर, रुड़की और कुशीनगर में जहरीली शराब पीने से लगभग 98 लोगों की मृत्यु हो गई थी. सहारनपुर के 64, रुड़की में 26 और कुशीनगर में 8 लोगों के मारे जाने की खबर मिली थी और उस वक्त मामले में प्रशासन की लापरवाही के लिए सरकार ने नागल थाना प्रभारी समेत दस पुलिसकर्मा और आबकारी विभाग के तीन इंस्पेक्टर व दो कांस्टेबर को निलंबित कर दिया था.