कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान को फिर लगा झटका

Organisation of the Islamic Conference
Organisation of the Islamic Conference

कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान को फिर झटका लगा है. पाकिस्तान भारत को अपनी साज़िश से नीचा दिखाने की ताक में रहता है. लेकिन हर बार उसकी हकीकत दुनिया के सामने आ ही जाती है. लेकिन ऐतिहासिक फैसला लेते हुए 5 अगस्त, 2019 को भारत सरकार ने धारा 370 को हटाने का फैसला लिया . उसके बाद से तो पाकिस्तान बौखलाया हुआ है. अभी पाकिस्तान ने कश्मीर मुद्दे पर OIC ( Organisation of the Islamic Conference) की तत्काल बैठक की मांग की. पाकिस्तानी अखबार डॉन ने लिखा कि सऊदी अरब ने तत्काल बैठक की मांग से सहमत नहीं है. इसे पाकिस्तान के लिए एक बड़े झटके के रूप में देखा जा रहा है. इसे सीधे तौर पर पाकिस्तान की हार के रूप में देखा जा रहा है. साऊदी अरब से पाकिस्तान को आर्थिक तौर पर भी काफी मद्द मिलती है.

यह भी पढ़ें: CAA और NRC का कड़वा सच.


क्या है OIC ?
इस्लामिक सम्मलेन संगठन (OIC) United Nations के बाद दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा inter-governmental संगठन है. 25 सितंबर, 1969 को रबात (मोरक्को) में सम्पन्न शिखर सम्मेलन में इसकी स्थापना पर फैसला लिया गया और 1970 इसकी पहली मीटिंग 1970 में जेद्दा (सऊदी अरब) में सम्पन्न हुई, जिसमें विदेश मंत्रियों ने भाग लिया.आपको यहां पर ये भी बता दें कि ऑर्गेनाइजेशन ऑफ इस्‍लामिक को-ऑपरेशन में दुनिया के 57 मुस्लिम देश शामिल हैं। इसका मुख्‍यालय भी सऊदी अरब के जेद्दा में है। इसका उद्देश्य दुनिया के सभी मुस्लिम देशों के बीच सहयोग बढ़ाना और पूरी दुनिया में शांति और प्‍यार को बढ़ाना था, लेकिन हाल के कुछ वर्षों में पाकिस्‍तान ने इसमें कश्‍मीर मुद्दे और भारत विरोधी मुद्दों को बढ़ा-चढ़ाकर उठाने की कोशिश की है