प्रद्युम्न हत्याकांड : निलंबित प्रिंसिपल को प्रशासन ने वापस नियुक्त किया

गुरुग्राम के रयान इंटरनैशल स्कुल में 8 तारीख को 7 साल के छात्र प्रद्युम ठाकुर की गला रेतकर हत्या हुई थी | प्रद्युम्न के हत्या के बाद स्कुल की प्रिंसिपल को प्रशासन ने निलंबित कर दिया था | लेकिन अब प्रशासन ने नीरजा बत्रा को वापस नियुक्त करने के लिए कहा है | प्रशासन का कहना है कि प्रद्युमन के मर्डर केस में नीरजा बत्रा का सीधे तोर पर शामिल न होने के कारण उनको वापस नियुक्त किया जाएगा | उपयुक्त कार्यालय ने उन्हें ड्यूटी पर बहाल करने की अनुमति संबंधी आदेश जारी किया है |

रिपोर्ट्स के मुताबिक रयान स्कुल में पढ़ रहे छात्रों के माँ बाप प्रशासन की इस बात से नाखुश है | साथ ही प्रद्युम्न के पिता ने भी इस बात से आपत्ती जताई है | प्रद्युम्न के पिता ने कहा कि जिस प्रिंसिपल के रहते स्कुल में एक छात्र का मर्डर हो जाता है उसे वापस सिर्फ स्कुल की शाखा बदल के नियुक्त कैसे किया जा सकता है? अगर वो स्कुल की प्रिंसिपल रहते अपनी ड्यूटी पूरी नहीं कर सकती तो वही एक टीचर रहते अपनी ड्यूटी कैसे पूरी कर पाएगी? उन्होंने आगे कहा कि जब तक ये केस बंद नहीं हो जाता तब तक किसी को भी नियुक्त या किसी का तबादला नहीं किया जाना चाहिए |

उपायुक्त विनय प्रताप सिंह ने स्कुल में पढ़ रहे छात्रों के माँ बाप को खुद आश्वस्थ किया है कि उनके छात्रों की सुरक्षा को व्यवस्थापन और स्टाफ की तरफ से प्राथमिकता दी जाएगी और इसमें किसी तरह का समझौता नहीं होगा |

प्रद्युम्न के मर्डर के बाद रयान स्कुल में 45 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए है | साथ ही स्कुल के सीमा के लिए नई दीवार का काम भी जल्द ही शुरू किया जाएगा | सारे टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ का पुलिस वेरिफिकेशन चल रहा है और उनको आईडी पहनना भी अनिवार्य कर दिया है |

एक मेटल डिटेक्टर स्कुल के एंट्री गेट पर लगाया गया है | जो लोग गेट के अंदर प्रवेश करेंगे उन्हें सुरक्षाकर्मी तलाशी लेकर ही अंदर दाखिल होने देंगे | छात्रों के माँ बाप को भी अब आईडी कार्ड दिया जाएगा | साथ ही नए आने वाले विजिटर को अपना पहचान पत्र याने आइडेंटिटी कार्ड दिखाना अनिवार्य होगा |