Thursday, August 13, 2020
Home Breaking News Hindi Rahul Roy इसलिए हो गए थे फिल्मों से दूर, वजह जान हो...

Rahul Roy इसलिए हो गए थे फिल्मों से दूर, वजह जान हो जाएंगे हैरान

- Advertisement -

नई दिल्ली: 90 के दशक में फिल्म इंडस्ट्री में लवर ब्वॉय के रूप में अपनी पहचान बनाने वाले अभिनेता राहुल रॉय (Rahul Roy) ने अपने करियर की शुरुआत वर्ष 1990 में प्रदर्शित महेश भट्ट की फिल्म ‘आशिकी’ से की थी. इस फिल्म में राहुल रॉय और अनु अग्रवाल की जोड़ी को दर्शकों ने बेहद पसंद किया था. रोमांटिक प्रेम कथा पर बनी इस फिल्म के सभी गीत उन दिनों चार्टबस्टर पर शामिल थे, जिन्होंने फिल्म को सुपरहिट बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी.

राहुल अपनी बाद की फिल्मों में उतनी सफलता हासिल नहीं कर पाए. कुछ साल बाद वे बॉलीवुड से लगभग गायब हो गए और केवल लोकप्रिय रियलिटी शो ‘बिग बॉस’ में एक कंटेस्टेंट के रूप में फिर से दिखाई दिए और इसका पहला सीजन जीता. हमारी सहयोगी वेबसाइट DNA में प्रकाशित एक खबर के अनुसार राहुल ने फिल्मों से दूर जाने के फैसले को लेकर बताया, ‘मैं चला गया और वह मेरी पसंद थी. इसमें इंडस्ट्री का कुछ लेना देना नहीं था.’

साथ ही उन्होंने बताया कि कैसे वह एक अभिनेता बन गए, जिसके बारे में उन्होंने कभी नहीं सोचा था. उन्होंने कहा, ‘इसे अच्छा मानो या बुरा, मैं इंडस्ट्री में एक स्टार बनने नहीं आया था, लेकिन मैं भाग्यशाली था कि मेरी मां पर लिखे एक लेख से महेश भट्ट प्रभावित हुए और वह उनसे मिलना चाहते थे. फिर उन्होंने मेरी तस्वीरें देखने के बाद मेरी मां से पूछा वो मुझसे एक्टिंग करवाना चाहते हैं, तो मैं भट्ट साहब द्वारा अभिनीत था. मैंने कभी भी फिल्म एक्टर के बारे में नहीं सोचा था, स्टार तो दूर की बात है.’

आगे राहुल रॉय ने बताया, ‘मैं उनसे मिला और 5 मिनट में ही उन्होंने मुझे फिल्म करने के लिए कहा. मेरे साथ उनका संबंध बहुत अलग था. फिल्म में हर कोई कह रहा था कि ‘ये बड़े बाल वाला हीरो है और इससे अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद नहीं है, फिर भी मुझे लिया गया. 30 साल से पहले, मुझे फिल्म का हिस्सा बनने का सौभाग्य प्राप्त हुआ.’

 खबरें पढ़ें :क्या मोटे लोगों के लिए जानलेवा सिद्ध हो रहा है कोरोना वायरस?

Source link

- Advertisement -
- Advertisment -

Most Popular

जापान के PM ने 1 ही भाषण को 2 जगह पढ़ा, भड़क गए इन शहरों के लोग

टोक्‍यो: जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे पर आरोप लगा है कि हीरोशिमा और नागासाकी पर परमाणु हमले की वर्षगांठ से जुड़े दो आयोजनों...

स्वदेशी का मतलब सभी विदेशी उत्पादों का बहिष्कार नहीं: मोहन भागवत

नई दिल्‍ली: राष्‍ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सरसंघचालक मोहन भागवत ने बुधवार को कहा कि स्वदेशी का अर्थ जरूरी नहीं कि सभी विदेशी...

DNA ANALYSIS: भारत के 1 करोड़ से ज्यादा लोगों का Made In India मुहिम को समर्थन

नई दिल्ली: चीन के खिलाफ ऐसी ही एकजुटता भारत के लोग भी दिखा रहे हैं. 30 जून को Zee News ने Made In...

DNA ANALYSIS: सुशांत के परिवार की भावुक चिट्ठी

नई दिल्ली: अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के मामले की जांच अब सीबीआई के पास है. लेकिन दो महीने बाद भी सुशांत...