सीएम गहलोत ने बिहार की नीतीश सरकार की तारीफ़, ये है वजह

Nitish-kumar and Ashok gehlot

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बिहार राज्य की नीतीश सरकार द्वारा वृद्ध माता-पिता के हक़ मे लिए गए फ़ैसले की तारीफ की है। दरअसल, बिहार सरकार ने राज्य में वृद्ध माता-पिता की सेवा ने करने वाले बच्चों को सज़ा दिए जाने का प्राव किया है। जिसका आसान मतलब ये है कि अगर कोई इंसान अपने बुज़ुर्ग माता-पिता की सेवा नहीं करता है तो जेल की सज़ा हो सकती है।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बिहार सरकार के बुज़ुर्गों के हित में लिए गए पर फ़ैसले का स्वागत करते हुए लगातार तीन ट्वीट किए। पहले ट्वीट में उन्होंने लिखा, संतानों द्वारा वृद्ध माता-पिता की सेवा न करने संबंधी मामलों पर बिहार सरकार का कदम स्वागत योग्य है। माता-पिता के सम्मान को बनाए रखने के लिए और संतान का उनके प्रति दायित्व सुनिश्चित करने के लिए ऐसे कदम उठाए जाने अतिआवश्यक हैं।

वहीं, दूसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘’राजस्थान में तो वर्ष 2010 में ही हमारी सरकार ने माता-पिता और वरिष्ठ नागरिकों का भरण-पोषण नियम के तहत माता-पिता की अनदेखी करने वालों या उन्हें अपनाने से इनकार करने वाली संतानों के खिलाफ सजा और जुर्माने का प्रावधान कर दिया था’’।

तीसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा है, ‘’बुजुर्गों का सम्मान बनाए रखने और उनके भरण-पोषण को सुनिश्चित करने के लिए सभी राज्यों में ऐसे प्रावधान होने चाहिए’’।