Sushant के परिवार ने शेखर सुमन और संदीप सिंह पर लगाए ये गंभीर आरोप

Sushant के परिवार ने शेखर सुमन और संदीप सिंह पर लगाए ये गंभीर आरोप

नई दिल्ली: शेखर सुमन और प्रोड्यूसर संदीप सिंह पर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के परिवार ने आरोप लगाया है कि राजनीति के लिए सुशांत की मौत का इस्तेमाल किया जा रहा है. शेखर सुमन और खुद को सुशांत सिंह का दोस्त बनाने वाले प्रोड्यूसर संदीप सिंह ने कल (मंगलवार) राष्ट्रीय जनता दल के बैनर के तले तेजस्वी यादव की मौजूदगी में सुशांत सिंह की मौत को लेकर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी. इसके तुरंत बाद शेखर सुमन ने राष्ट्रीय जनता दल पार्टी की सदस्यता भी स्वीकारी है.

गौरतलब है कि आने वाले महीनों में बिहार में चुनाव होने वाले हैं. शेखर सुमन इससे पहले कांग्रेस के टिकट पर भी चुनाव लड़ चुके हैं. शेखर सुमन और तेजस्वी यादव द्वारा प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान इस्तेमाल किए गए राजनीतिक बैनर को परिवार द्वारा सराहा नहीं गया है. सब कुछ मुंबई में जांच के दायरे में है और राजनीतिक बैनर के तहत पटना में मीडिया बाइट देना सिर्फ राजनीतिक लाभ के लिए है.

परिवार खुद इन सारी चीजों के लिए सक्षम है और पुलिस जांच रिपोर्ट के इंतजार में है. इसमें किसी भी तरह की राजनीति और राजनीतिक हस्तक्षेप की आवश्यकता नहीं है, परिवार में पहले से ही राजनीतिक के लोग हैं जो इस मामले को उठाएंगे. क्या शेखर सुमन राजद में शामिल हो रहे हैं और किसी की मौत पर राजनीति कर रहे हैं? क्यों किसी ने इस प्रेस कॉन्फ्रेंस के बारे में परिवार को जानकारी नहीं दी. उस प्रेस कॉन्फ्रेंस में क्यों परिवार का कोई भी सदस्य नहीं मौजूद था. क्या ये सब राजनीतिक स्टंट केवल मीडिया का ध्यान खींचने के लिए था.

संदीप सिंह नाटकीय रूप से उनके निधन के तुरंत बाद दिखाई दिए और फिर मीडिया से बात की कि कुछ भी संदिग्ध नहीं है और हम सभी को लगता है कि सब गलत है. उन्होंने फिल्म फ्रेटरनिटी को भी सामान्य बताया था और इस तरह उन्होंने सभी को क्लीन चिट दे दी और फिर अचानक उन्होंने तेजस्वी यादव और शेखर सुमन के साथ मिलकर कुछ विवादास्पद बयान देते हैं.

1. उन्होंने 50 सिम कार्ड और गैंगवाद के बारे में बात की और इस जांच को अधिक राजनीतिक बना दिया.
2. जब उन्होंने पहले ही क्लीन चिट दे दी थी, तो शेखर सुमन के माध्यम से मीडिया के सामने फिर से क्यों चले गए.
3. क्या वह किसी तरह बॉलीवुड के बड़े व्यक्तित्व का बचाव करने की कोशिश कर रहे हैं.
4. क्यों उनकी प्रेस कॉन्फ्रेंस की जानकारी सुशांत के परिवार वालों को नहीं दी गई? जब यह प्रेस कॉन्फ्रेंस पटना में किया गया था तो क्या परिवार वोलों से इसकी मंजूरी ली गई थी? क्यों उनके परिवार से किसी को आमंत्रित नहीं किया गया था.
5. यह पूरी तरह से एक संदेह पैदा करता है, क्योंकि सोशल मीडिया पर संदीप सिंह से पूछताछ को लेकर काफी लोगों द्वारा मांग की जा रही है.

 खबरें पढ़ें:कोरोना संक्रमण रोकने के लिए लौंग का किस प्रकार सेवन करना चाहिए?

Source link