संदिग्ध कोविड-19 संक्रमित अंजली को मृत पिता को अंतिम विदाई देने के लिए मिले सिर्फ 3 मिनट

संदिग्ध कोविड-19 संक्रमित अंजली को मृत पिता को अंतिम विदाई देने के लिए मिले सिर्फ 3 मिनट

कांगपोकी:

दुनियाभर के तमाम देशों के साथ-साथ भारत में भी कोरोनावायरस (COVID-19) का कहर तेजी से बढ़ता जा रहा है. रिपोर्ट्स के अनुसार, 180 से ज्यादा देशों में फैल चुका यह वायरस अब तक साढ़े तीन लाख से ज्यादा जानें ले चुका है. इस दौर में दिल को झकझोर देने वाली कुछ घटनाए हो रही है. ऐसा ही एक वीडियो मणिपुर के कांगपोकपी सामने आया है. जिसमें 22 वर्षीय अंजलि ह्म्ंगटे के पास अपने मृत पिता से मिलने के लिए मात्र तीन मिनट का समय मिला है. उसके पिता की लंबी बीमारी के बाद मृत्यु हो गई है.

बताया जा रहा है कि 22 वर्षीय अंजली ह्म्ंगटे कोविड-19 की संदिग्ध मरीज है. 25 मई को वो चेन्नई से एक श्रमिक स्पेशल ट्रेन से मणिपुर आयी थी जिस ट्रेन में उसके साथ यात्रा कर रहे है एक व्यक्ति के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद उसे क्वारेंटिन सेंटर में भेज दिया गया है. इसी बीच उसके पिता की मौत हो गयी जिसके बाद अधिकारियों ने अंजली को तीन मिनट का समय दिया था. इस दौरान उसे पीपीई किट पहना कर के लाया गया था और अधिकारियों ने स्टॉपवॉच में समय को देखकर उसे तीन मिनट तक अपने पिता के शव के पास रहने दिया. सबसे हृदय विदारक बात यह थी कि इस दौरान उसे सांत्वना देने के लिए न तो उसकी मां, रिश्तेदार या पड़ोसी भी उसके आसपास नहीं जा सकते थे.

बातते चले कि मणिपुर में भी कोरोना का कहर देखा जा रहा है. राज्य सरकार ने गुरुवार को कहा कि राज्य में  13 और  कोविड​​-19 मामले सामने आए हैं. उधर देश में भी स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा गुरुवार सुबह जारी आंकड़ों के अनुसार, भारत में इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 2,16,919 हो गई है. पिछले 24 घंटों में कोरोना के 9,304 नए मामले सामने आए हैं और 260 लोगों की मौत हुई है.

Source link