लोगों को नकद सहयोग नहीं देकर अर्थव्यवस्था बर्बाद कर रही है सरकार: राहुल गांधी

लोगों को नकद सहयोग नहीं देकर अर्थव्यवस्था बर्बाद कर रही है सरकार: राहुल गांधी

राहुल गांधी का कहना है कि केंद्र सरकार छोटे उद्यमों को नकद सहायता प्रदान करें (फाइल फोटो)

कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने शनिवार को केंद्र सरकार पर आरोप लगाया कि संकट की इस घड़ी में सरकरा एमएसएमई क्षेत्र (सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग) की इकाइयों को नकद सहयोग नहीं देकर अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर रही है. राहुल गांधी ने इसकी तुलना नोटबंदी से करते हुए इसे नोटबंदी 2.0 करार दिया. राहुल गांधी ने एक अखबार की खबर पर शेयर करते हुए ट्वीट किया, ‘‘सरकार लोगों और एमएसएमई को नकद सहयोग देने से इनकार करके हमारी अर्थव्यवस्था को सक्रियता के साथ नष्ट कर रही है. यह नोटबंदी 2.0 है.” गौरतलब है कि राहुल गांधी और कांग्रेस पिछले कई हफ्तों से सरकार से यह मांग कर रहे हैं कि गरीबों, मजदूरों और एमएसएमई की वित्तीय मदद की जाए. उनका कहना है कि लोगों के खातों में अगले छह महीनों के लिए 7500 रुपये महीने भेजे जाएं और तत्काल 10 हजार रुपये दिए जाएं.

v6svm2ro

इससे पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार पर कोरोनावायरस संक्रमण से बचने के लिए लगाए गए लॉकडाउन को लेकर निशाना साधा. कांग्रेस नेता ने अपने ट्वीट में 6 देशों के ग्राफ के जरिए यह दर्शाया कि भारत में कोरनावायरस महामारी को लेकर 25 मार्च को लागू किया गया लॉकडाउन पूरी तरह फेल था. केंद्र सरकार ने मार्च के अंत में, दुनिया के सबसे बड़े लॉकडाउन को लागू कर दिया, आने वाली 8 मई से इसमें कई प्रकार की छुट मिलने से पहले इसे कई बार बढ़ाया गया. स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों ने हाल के दिनों में कोविड-19 मामलों और मौतों में अचानक वृद्धि देखी गई है.

Source link