रात के अँधेरे का फायदा उठाकर इलाहाबाद में भी हुई खुराफाती हरकत

Monthly / Yearly free trial enrollment

उत्तरप्रदेश के इलाहाबाद में झूसी के त्रिवेणीपुरम में डॉ. बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की मूर्ति को निशाना बनाया गया है. अराजक तत्वों ने रात्रि में अंबेडकर की प्रतिमा को तोड़ दिया. फिलहाल मूर्ति बदलवाने की तैयारी की जा रही है. हालांकि अब तक ये पता नहीं चल पाया है कि मूर्ति तोड़ने की घटना के पीछे कौन है.

वहीं अराजक तत्वों की गिरफ्तारी और प्रशासन द्वारा तत्काल मूर्ति लगवाने को लेकर भारी संख्या में बहुजनों से इकट्ठा होने की अपील की गई है. घटनास्थल पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है.

बता दें कि इससे पहले भी कई बार बाबा साहब अंबेडकर की मूर्ति को निशाना बनाया गया था. यूपी के एटा के थाना जलेसर कस्बे में अंबेडकर प्रतिमा को अराजक तत्वों ने तोड़ दिया था. इसके बाद प्रतिमा टूटी हुई देखकर जाटव समाज के लोग भड़क उठे. सूचना मिलते ही पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और लोगों को समझाकर हालात काबू में किए गए थे.

वहीं इससे पहले आजमगढ़ में भी संविधान निर्माता बाबा साहब अंबेडकर की मूर्ति को निशाना बनाया गया था. जिले के थाना अहरौला के गांव राजापट्टी में लगी बाबा साहब की प्रतिमा भी रात में तोड़ दी गई थी. ग्रामीणों ने सुबह जब मूर्ति टूटी हुई देखी तो वो आक्रोशित हो गए. इसके बाद घटना स्थल पर भारी संख्या में ग्रामीण जमा हो गए.

ग्रामीणों का आरोप था कि मूर्ति टूटने की घटना कई बार हो चुकी है, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है. इंस्पेक्टर दीनानाथ पांडेय ने बताया था कि आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. ग्रामीणों को शांत कर पुलिस की निगरानी में अंबेडकर की दूसरी प्रतिमा लगाई.