उत्तर प्रदेश: भाजपा का ‘सुलतानपुर’ का नाम बदलकर ‘कुश भवनगर’ रखने का प्रस्ताव सदन में हुआ पारित,  होगी चर्चा

भाजपा ने उत्तर प्रदेश विधानसभा में सुल्तानपुर का नाम बदल कर कुश भावनगर रखने की मांग की है. इस प्रस्ताव को चर्चा के लिए सदन मंजूर कर दिया गया है. यह प्रस्ताव भाजपा के विधायक  देवमणि द्विवेदी ने रखा. इससे पहल प्रदेश में मुगलसराये स्टेशन का नाम बदल कर दिन दयाल उपाध्याय रेलवे स्टेशन रखा गया था. इसकी अलावा भाजपा ने लखनऊ यूनिवर्सिटी का नाम बदल कर अटल बिहारी यूनिवर्सिटी रखने का भी प्रस्ताव दिया है

इसके अलावा दो प्रस्ताव ओर भी दिए गए है:  देवमणि द्विवेदी, विधायक

बीजेपी विधायक ने कहा कि इस प्रस्ताव को मैंने सदन में रखा. सदन ने इस प्रस्ताव पर चर्चा की अनुमति दे दी है. इसके अलावा बीजेपी विधायक अविनाश त्रिवेदी ने लखनऊ विश्वविद्यालय का नाम बदल कर अटल बिहारी वाजपेयी विश्वविद्यालय रखने का प्रस्ताव रखा है. साथ ही, लखनऊ के परिवर्तन चौक का नाम बदल कर अटल चौक रखने का भी प्रस्ताव रखा गया है.

कांग्रेस विधायकों ने सदन से किया वाकआउट, कहा बेरोजगारी पर हो चर्चा

कांग्रेसी विधायकों द्वारा सदन से वाकआउट किया गया. कांग्रेस विधायकों ने पूछा कि बीते एक साल में कितने बेरोजगारों को रोजगार मिला है. कांग्रेसी विधायक सरकार के जवाब से नाराज होकर वाकआउट किए. कांग्रेसी विधायकों ने सरकार से बेरोजगारों की संख्या को लेकर जवाब मांगा. कांग्रेस के सवालों पर सत्तापक्ष और विपक्ष के बीच जमकर तकरार हुई. सरकार की तरफ से जवाब में कहा गया है कि बेरोजगारों की संख्या में इजाफा हुआ है.

कांग्रेस ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा की ‘सरकार प्रदेश की जनता को असल मुद्दों से भटका रही है’. पार्टी विधायकों ने कहा की सरकार जनता से जुड़े मामलों कोम लेकर गंभीर नहीं है. उन्होंने यह भी कहा की अगर, सदन में इससे जुड़ा कोई भी सवाल पूछा जाता है तो उसका उचित जवाब नहीं दिया जाता है. विपक्षी दल विधान परिषद में भी बेरोजगारी और अपराध जैसे मुद्दे उठा चुकी है.