क्या वाकई तीन बार बिक चुका है ताजमहल?

क्या वाकई तीन बार बिक चुका है ताजमहल?
क्या वाकई तीन बार बिक चुका है ताजमहल?

ताजमहल को लेकर चल रहे विवाद अपनी जगह है, लेकिन ताजमहल को लेकर कुछ ऐसे तथ्य है, जिसे बहुत ही कम लोग जानते है, ऐसे ही तथ्यों को आज हम आपके सामने लेकर आये है। जी हाँ, आपको जानकर हैरानी होगी लेकिन ये सच है कि ताजमहल को तीन बार बेचा जा चुका है, लेकिन इसे बेचने वाला अभी तक पुलिस के गिरफ्त में नही आया है। आइये खबर पर एक नजर डालते है….

ताजमहल को लेकर विवाद पहली बार नहीं शुरू हुआ है बल्कि इससे पहले भी ताजमहल को लेकर बड़ा विवाद हुआ है। इस बार ताजमहल पर होने वाले विवाद की जड़ यूपी की पर्यटन बुकलेट से ताजमहल के नाम का गायब होने से शुरू हुआ लेकिन मामला तब तूल पकड़ लिया जब बीजेपी के विधायक संगीत सोम ने ताजमहल को धब्बा करार दिया, जिसके बाद से ही सियासी संग्राम शुरू हो गया।

बताया जाता है कि ताजमहल को शाहजहां ने अपनी बेगम मुमताज की याद में बनवाया था। आपको बता दें कि मुमताज अपने 14वें पुत्र को जन्म देते ही मर गई थी, जिसकी वजह से शाहजहां ने मुमताज की याद में ताजमहल का निर्माण कराया। बताया तो ये भी जाता है कि ताजमहल बनवाने के बाद शाहजहां ने मजदूरों के हाथ कटवा दिये थे, जिसकी वजह से मजदूरों ने दिवार में एक छेद कर दिया, जहाँ से अब पानी टपकता है।

 

 

तीन बार बिक चुका है ताजमहल…

आपको बता दें कि बिहार के नटवरलाल नामक एक शख्स ने ताजमहल को तीन बार बेचा। जी हाँ, एक नहीं दो नहीं पूरे तीन बार इस शख्स ने ताजमहल को बेचा।

ताजमहल ही नहीं इन प्रतीकों को भी बेच चुका है…

बिहार का ठगी नटवर लाल राष्ट्रपति भवन और लाल किला को भी कई बार बेच चुका है।

नटवरलाल के पीछे है कई राज्यों की पुलिस…

आपको बता दें कि बिहार के इस ठग के पीछे कई राज्यों की पुलिस पड़ी हुई है, लेकिन अभी तक ये किसी के हाथ नहीं आया है।