Heart attack patient को कौन सा dry fruits खाना चाहिएं ?

0
154
Heart attack patient को कौन सा dry fruits खाना चाहिएं
Heart attack patient को कौन सा dry fruits खाना चाहिएं

Heart attack patient को कौन सा dry fruits खाना चाहिएं ? ( Which dry fruits should a heart attack patient eat? )

वर्तमान समय में हमें अनेंक बीमारियों का सामना करना पड़ रहा है. इसका सबसे बड़ा कारण भागदौड भरी जिंदगी तथा स्ट्रेस है. जिसके कारण हम अपने स्वास्थ्य पर ध्यान नहीं दे पाते हैं. Heart attack की बीमारी की वजह से काफी लोगों को अपनी जान गवानी पड़ती है. इसी कारण लोगों के मन में काफी सवाल पैदा होते हैं. इसी तरह का एक सवाल आता है कि Heart attack patient को कौन सा dry fruits खाना चाहिएं ? इस पोस्ट में इसी सवाल का जवाब जानने हैं.

Heart attack

कौन सा dry fruits खाना चाहिएं-

अखरोट के फायदे के बारें में तो आप सभी जानते होगें. इसके प्रय़ोग करने से यह कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित और संतुलित करता है. इसके साथ ही इसमें ब्लड प्रेशर को कम करने का गुण भी पाया जाता है जो हृदय रोग के मुख्य कारणों में गिने जाते हैं. इसके साथ ही बादाम का प्रय़ोग करना भी हद्य रोग से संबंधित हमारे लिए फायदेमंद हो सकता है. बादाम भी हमारे ब्लड प्रेशर और रक्त कोशिकाएं को स्वस्थ रखता है. जिससे वे अच्छे से काम कर पाएं. विशेषज्ञयों का मानना है कि बादाम खाने से हृदय रोग का खतरा कई गुना तक कम हो जाता है और साथ ही साथ यह रक्त कोशिकाओं को भी स्वस्थ रखने का काम करता है. इसके साथ ही साथ यह ब्लड सर्कुलेशन को भी मेंटेन रखता है.

Heart attack

हालांकि कुछ विशेषज्ञयों में इसको लेकर मतभेद भी नजर आता है. जिनका मानना है कि सूखे मेवे जैसे- बादाम और अखरोट इत्यादी में 50 प्रतिशत से अधिक तेल की मात्रा होती है. इसी कारण कुछ विशेषज्ञयों का मानना है कि सूखे मेवों में 40-64 फीसदी तक ट्रायग्लिसराइड भी होता है जिससे रक्त में इस तत्व का स्तर बढ़ जाता है. इसलिए दिल के रोगियों के लिए सभी सूखे मेवे प्रतिबंधित हैं. किशमिश, मुनक्का, खजूर और खुमानी में लगभग तेल की मात्रा शून्य होती है. दिल संबंधी रोगी इनका प्रयोग कर सकते हैं बशर्ते उन्हें डायबिटीज न हो.

यह भी पढ़ें: शरीर में विटामिन डी की कमी हो तो क्या है इसका आयुर्वेदिक उपाय?

इस सवाल को लेकर मतभेद के कारण ऐसी भी सलाह दी जाती है कि बादाम या अखऱोट का प्रयोग करते हैं,तो निर्धारित मात्रा में संबंधित विशेषज्ञयों से संपर्क करके उनकी सलाह पर ही इनका प्रय़ोग करें.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. News4social इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें।

Today latest news in hindi के लिए लिए हमे फेसबुक , ट्विटर और इंस्टाग्राम में फॉलो करे | Get all Breaking News in Hindi related to live update of politics News in hindi , sports hindi news , Bollywood Hindi News , technology and education etc.