भारत में हुए पहले आम चुनाव में किस पार्टी ने कितनी सीट पर जीत हासिल की ?

0
72
भारत में हुए पहले आम चुनाव में किस पार्टी ने कितनी सीट पर जीत हासिल की Which party won how many seats in the first general election held in India
भारत में हुए पहले आम चुनाव में किस पार्टी ने कितनी सीट पर जीत हासिल की Which party won how many seats in the first general election held in India

भारत में हुए पहले आम चुनाव में किस पार्टी ने कितनी सीट पर जीत हासिल की ?  ( Which party won how many seats in the first general election held in India ? )

लोकतंत्र के लिए चुनाव एक पर्व से कम नहीं होता है. भारत ने 1947 में मिली आजादी के बाद यह पर्व पहली बार 1951-52 में हुए आम चुनाव के तौर पर मनाया. भारत के नजरिये से इन चुनाव का बहुत महत्व था. इन चुनाव में एक नवनिर्मित भारत देश के सामने एक बड़ी चुनौती थी कि उस समय भारत की जनसंख्या की साक्षरता दर बहुत कम थी. ऐसे में सवाल पैदा होता है कि देश के इतिहास में आजादी के बाद हुए पहले चुनाव में किस पार्टी ने कितनी सीटों पर जीत हासिल की. अगर आपके मन में भी यह सवाल है, तो इस पोस्ट में इसी सवाल का जवाब जानते हैं.

सुकुमार सेन

आम चुनाव में किस पार्टी ने कितनी सीट पर जीत हासिल की-

भारत में हुए पहले आम चुनाव में भारत के मुख्य चुनाव आयुक्त की जिम्मेदारी सुकुमार सेन के कंधों पर थी. इन चुनाव में 489 सीटों पर चुनाव लड़ा गया. जिसमें सबसे अधिक सीटें भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के हिस्से में आई. भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने 489 में से 364 सीटों पर जीत हासिल की तथा उसका वोट प्रतिशत 44.99 था. उसके बाद कम्युनिस्ट पार्टी ( CPI ) ने 16 सीटें , सोशलिस्ट पार्टी ने 12 सीटें , किसान मजदूर प्रजा पार्टी ने 9 सीटें, पीपुल्स डेमोक्रेटिक फ्रंट  ने 7 सीटें , गणतंत्र परिषद् ने 6 सीटें पर जीत हासिल की.

राजनीतिक पार्टी

इसके अलावा अखिल भारतीय हिंदू सभा , शिरोमणि अकाली दल और तमिलनाड़ु टायलर्स पार्टियों ने 4-4 सीटों पर जीत हासिल की. इन चुनाव में अखिल भारतीय राम राज्य परिषद् , भारतीय जन संघ , रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी , कामनवेल्थ पार्टी तथा झारखण्ड़ पार्टी ने भी 3-3 सीटों पर जीत हासिल करने में सफलता हासिल की. इस पार्टियों के अलावा शिड्यूल कास्ट फेडरेशन , लोक सेवक संघ,  पीजेन्ट्स एंड वर्कर्स पार्टी आफ इंडिया के हिस्से में भी 2-2 सीटें आई.

यह भी पढ़ें: विधानसभा और लोकसभा में आरक्षित सीटें क्या होती है ?

अगर अन्य पार्टियों की बात करें, तो फारवर्ड ब्लाक ( मार्क्सवादी ) , कृषिकर लोक पार्टी , छोटा नागपुर संथाल परगना जनता पार्टी , मद्रास स्टेट मुस्लिम लीग पार्टी तथा त्रावणकोर तमिलनाड़ु कांग्रेस पार्टी के हिस्से में 1-1 सीटें आई. इनके अलावा भारत के पहले आम चुनाव में 37 निर्दलीय उम्मीदवार भी चुने गए. इन चुनाव को संपन्न करवाने के लिए 2 लाख 24 हजार मतदान केंद्र बनाए गए.

Today latest news in hindi के लिए लिए हमे फेसबुक , ट्विटर और इंस्टाग्राम में फॉलो करे | Get all Breaking News in Hindi related to live update of politics News in hindi , sports hindi news , Bollywood Hindi News , technology and education etc.