Home Breaking News Hindi भारत का ऐसा कौन सा प्रदेश या जिला है जहाँ के सबसे...

भारत का ऐसा कौन सा प्रदेश या जिला है जहाँ के सबसे अधिक पुरुष कुँवारे हैं ?

- Advertisement -

भारत का ऐसा कौन सा प्रदेश या जिला है जहाँ के सबसे अधिक पुरुष कुँवारे हैं

मध्यप्रदेश के मुरैना जिला मुख्यालय से 41 किलोमीटर दूर पहाड़गढ़ क्षेत्र में है निचली बहराई गांव। इस गांव में गुर्जर, गुंसाई और आदिवासी समुदाय के परिवार रहते हैं। यहां गुर्जर और गुंसाई समुदाय के ज्यादातर परिवारों में दो से तीन लड़के कुंवारे हैं। दो परिवार ऐसे हैं जिनमें पांच-पांच भाई कुंवारे हैं। कई पुरुष 35 से 40 वर्ष के हो गए हैं, लेकिन उनकी शादी नहीं हुई है। इसका बड़ा कारण गांव में बिजली-पानी सहित मूलभूत सुविधाओं का अभाव होना है।

निचली बेहराई गांव की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता मिथलेश का कहना है कि गांव की कुल आबादी 760 है जिसमें 353 महिलाएं एवं 407 पुरुष हैं। इनमें करीब 100 पुरुष ऐसे हैं जिनकी उम्र 20 से 40 वर्ष तक है लेकिन उनका ब्याह नहीं हुआ है। यहां रहने वाले गुर्जर समुदाय के हर परिवार में कुंवारे लड़के हैं। वहीं गोसाई परिवार के लड़कों की भी शादियां नहीं हो रही हैं।

mp news

बिलजी-पानी की समस्या के कारण पुरुष 35 साल के होने के बाद बी कुंवारे बैठे हैं।

बेटों की शादी की चाहत में पलायन कर रहे ग्रामीण- निचली बहराई गांव में अधिकांश परिवार पशुपालन एवं कृषि पर निर्भर हैं। इस क्षेत्र में पानी की उपलब्धता नहीं होने के कारण साल में ज्यादातर वक्त जल संकट रहता है।

बारिश के सीजन में नदी-नाले उफनने से रास्ता बंद हो जाता है। इन सब समस्याओं से तंग आकर 10 से 12 परिवार पलायन कर गए हैं। इसके पीछे दो मंशा हैं। एक तो काम-धंधा मिल जाए। दूसरा बच्चों का ब्याह हो जाए।

हर परिवार में हैं कुंवारे लड़के : बियावान जंगल में बसे इस गांव में नहर नहीं है। गर्मी का मौसम शुरू होने से पहले ही तालाब-कुएं सूख जाते हैं। सिंचाई का साधन नहीं होने से खेत बंजर पड़े हैं। वहीं बिजली नहीं होने से अन्य जीवनोपयोगी काम करना भी यहां मुश्किल है। ऐसे हालात में कोई भी व्यक्ति अपनी बेटियां यहां नहीं ब्याहना चाहता।

यह भी पढ़ें : शिवराज सिंह चौहान MP के CM बनने से पहले क्या थे ?

परिणाम स्वरूप यहां हर परिवार में कुंवारे लड़के हैं। चर्चा करते हुए गांव के 40 से अधिक लोगों ने बताया कि गांव में नहर नहीं है। आसन नदी का जलस्तर गिरने से कुएं व तालाब भी सूख गए हैं। झरनों से पानी का गिरना भी बंद हो गया है। गांव के आसपास पानी नहीं होने से खेती-किसानी चौपट हो गई। मवेशियों के लिए चारा उपलब्ध नहीं रहने से पशुपालन भी नहीं कर पा रहे हैं।

mp news

Today latest news in hindi के लिए लिए हमे फेसबुक , ट्विटर और इंस्टाग्राम में फॉलो करे | Get all Breaking News in Hindi related to live update of politics News in hindi , sports hindi news , Bollywood Hindi News , technology and education etc.

- Advertisement -
- Advertisment -

Most Popular

देश में क्‍यों पैदा हुआ आलू की सप्‍लाई का संकट?

नई दिल्ली: चीन (China) के बाद भारत (India) दुनिया का सबसे बड़ा आलू (Potato) उत्पादक है, लेकिन विगत कुछ महीने से देश में...

In ‘ghar wapsi’ mode, 50 militants in J&K have surrendered in 2020

In an overnight encounter at Noorpora, Tral, the residential neighbourhood of...

IPL 2020: SRH inch closer to qualification after 5 wicket win over RCB

Jason Holder cameo at the end got SunRisers Hyderabad (SRH) over...

France: Greek Orthodox priest shot in Lyon, assailant flees

A Greek Orthodox priest was shot and injured on Saturday at...